Tuesday, September 14, 2021

बिना सामूहिक परीक्षा साक्षर की श्रेणी में मिलेगी प्रोन्नतिए न्यूनतम मानक तय किए

 बिना सामूहिक परीक्षा साक्षर की श्रेणी में मिलेगी प्रोन्नतिए न्यूनतम मानक तय किए

बस्ती

पंद्रह साल से अधिक आयु वर्ग के निरक्षरों को अब सामूहिक परीक्षा के बिना साक्षर की श्रेणी में प्रोन्नत किया जा सकेगा। कोरोना महामारी का असर पढ़ना लिखना अभियान पर देखा गया। लिहाजा अब प्रदेश में निरक्षरों को साक्षर। बनाने के लिए चल रहे अभियान में सामूहिक परीक्षा नहीं कराई जाएगी । उनकी प्रोन्नति के लिए न्यूनतम स्तर के मानक तय कर दिए गए हैं। इसी आधार पर इनका मूल्यांकन कर उन्हें साक्षर घोषित किया जा सकेगा।



महानिदेशक स्कूल शिक्षा स्तर से डायट प्राचार्य व जिला बेसिक शिक्षा अधिकारियों को जारी पत्र में कहा गया है कि भारत सरकार ने पढ़ना.लिखना अभियान योजना के तहत समय सीमा को बढ़ाकर तीस सितंबर 2021 कर दिया है। लिहाजा चिह्नित किए गए निरक्षर महिला ध् पुरुष को साक्षर की श्रेणी में निर्धारित न्यूनतम मानक के आधार पर मूल्यांकन कर रिपोर्ट 30 सितम्बर तक सरकार को भेज देनी है। केन्द्र सरकार ने 2018 में साक्षर भारत अभियान को बंद कर दिया था। बीते वर्ष पढ़ना लिखना अभियान शुरू किया। पहली वरीयता पर परिषदीय स्कूल में मध्यान्ह भोजन बनाने वाले रसोइयों को साक्षर किया जाना था।


न्यूनतम मानक तय किए


केन्द्र सरकार ने अभियान के मूल्यांकन के लिए न्यूनतम मानक तय कर दिए हैं। चिह्नित निरक्षर को अपना नाम स्थानीय बोली में लिखनाए अस्पतालए स्कूल या पंचायत का बोर्ड पढ़ना आना चाहिए। नामए माता पिताए परिवार के लोगों का नामए जगह का नाम के साथ चार.पांच छोटे वाक्य लिखवाए जाएंगे।



डाउनलोड करें हमारी एंड्राइड ऐप गूगल प्ले स्टोर से👇

 Download Govt Jobs UP Android App   

 Free GS Quiz के लिए टेलीग्राम चैनल जॉइन करें👇    

Join FREE GS Quiz Telegram Channel     

वॉट्सएप ग्रुप में जुड़ने के लिए क्लिक करें👇