Wednesday, August 18, 2021

UPMSP UP Board exam 2021 :अंक सुधार के लिए 18 सितंबर से परीक्षा कराएगा यूपी बोर्ड, तीन की बजाय दो घंटे का होगा प्रश्नपत्र

 

UPMSP UP Board exam 2021 :अंक सुधार के लिए 18 सितंबर से परीक्षा कराएगा यूपी बोर्ड, तीन की बजाय दो घंटे का होगा प्रश्नपत्र





UPMSP UP Board exam 2021 : हाईस्कूल और इंटरमीडिएट के परिणाम से असंतुष्ट छात्र-छात्राओं के लिए यूपी बोर्ड 18 सितंबर से 6 अक्तूबर के बीच अंक सुधार परीक्षा कराएगा। जो परीक्षार्थी इसमें सम्मिलित होना चाहते हैं, उन्हें इस परीक्षा में एक या एक से अधिक कितने भी विषयों में नि:शुल्क शामिल होने का अवसर दिया जाएगा। खास बात यह कि उनका परीक्षाफल 2021 का ही माना जाएगा।

अंक सुधार परीक्षा के लिए बोर्ड ने आवेदन लेने शुरू कर दिए हैं। इच्छुक छात्र-छात्राएं यूपी बोर्ड की वेबसाइट www.upmsp.edu.in से आवेदन पत्र के प्रारूप को डाउनलोड कर और उसे भरकर अपने स्कूल के प्रधानाचार्य को 27 अगस्त की शाम 5 बजे तक उपलब्ध करा दें। प्रधानाचार्य 29 अगस्त की रात 12 बजे तक प्राप्त आवेदन पत्रों को बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड करेंगे।

बोर्ड सचिव दिव्यकांत शुक्ल की ओर से मंगलवार को जारी विज्ञप्ति के अनुसार अंक सुधार परीक्षा में सम्मिलित होने वाले परीक्षार्थियों के मूल्यांकन से प्राप्त अंकों को अंतिम माना जाएगा। परीक्षार्थी के पूर्व में 31 जुलाई को घोषित परीक्षाफल में लिखित अंश में प्राप्त अंक मान्य नहीं होंगे। वर्ष 2021 की इंटरमीडिएट प्रयोगात्मक परीक्षा में अनुपस्थित रहने वाले परीक्षार्थी यदि चाहें तो वह भी आगामी प्रयोगात्मक परीक्षा में सम्मिलित हो सकते हैं।


तीन की बजाय दो घंटे का होगा प्रश्नपत्र

अंक सुधार परीक्षा में छात्रों की सुविधा के लिए प्रश्नपत्र को तीन घंटे की बजाय प्रश्नों की संख्या को कम करते हुए दो घंटे का किया जाएगा। अंक सुधार के लिए आयोजित परीक्षा केवल लिखित अंश के लिए होगी और आंतरिक मूल्यांकन व प्रयोगात्मक परीक्षा के अंक पूर्ववत रहेंगे। हाईस्कूल की परीक्षा 12 व इंटर की 15 कार्यदिवसों में कराई जाएगी।