Monday, August 30, 2021

यूपी के इन जिलों में फिर से मांगे जा रहे हैं आंगनबाड़ी भर्ती हेतु आवेदनए जानिए किस जिले के लिए कब तक कर सकेंगे अप्लाई

 यूपी के इन जिलों में फिर से मांगे जा रहे हैं आंगनबाड़ी भर्ती हेतु आवेदनए जानिए किस जिले के लिए कब तक कर सकेंगे अप्लाई




यूपी के इन जिलों में फिर से मांगे जा रहे हैं आंगनबाड़ी भर्ती हेतु आवेदनए जानिए किस जिले के लिए कब तक कर सकेंगे अप्लाई


उत्तर प्रदेश के कई जिलों में आँगनवाडी कार्यकत्रीए मिनी आँगनवाडी व सहायिका के पदों के लिए आवेदन मांगे जा रहे हैं ऐसे में इन जिलों के अंतर्गत आने वाले अभ्यर्थियों को जल्द से जल्द अपनी आवेदन प्रक्रिया पूर्ण कर लेनी चाहिए। 


बीते कुछ दिनों पहले उत्तर प्रदेश के कई जिलों में बाल विकास सेवा एवं पुष्टहार विभागए उत्तर प्रदेश द्वारा आँगनवाडी कार्यकत्रीए मिनी आँगनवाडी कार्यकत्री और सहायिका के हजारों पदों पर भर्ती का ऐलान किया गया थाए जिसके अंतर्गत कानपुरए लखनऊए बांदा  चित्रकूट चंदौली मुरादाबाद बागपत गाजीपुर रामपुर सहारनपुर बिजनौर शामली बाराबंकी बलिया हमीरपुरए हापुड़ संभलपुर ललितपुर गोंडा महोबा जौनपुर बनारस गाजियाबाद प्रतापगढ़ प्रयागराज सीतापुर सुल्तानपुर सोनभद्र कनौज सीतापुर बदायू रायबरेली मिर्जापुर जैसे शहरों के आँगनवाडी केंद्रों में भर्ती के लिए महिला उम्मीदवारों से आवेदन मांगे गए थे। लेकिन कुछ जिलों में यह भर्ती किन्ही कारणों से नहीं हो पाई थी या इन पदों की भर्ती प्रक्रिया की शुरुआत देरी से हो पाई थी ऐसे में आज हम आपको इस आर्टिकल के जरिए उन्हीं जिलों के बारे में विस्तार से जानकारी बताने जा रहे हैं जोकि इस भर्ती के लिए इच्छुक उम्मीदवारों के लिए काफी महत्वपूर्ण साबित हो सकती है।


किन.किन जिलों में कब तक चलेगी आवेदन प्रक्रिया



ऐसे होता है चयन  

अगर आपने भी यूपी आँगनवाडी भर्ती के लिए आवेदन किया है तो आपको इसके चयन प्रक्रिया के बारे में सारी जानकारी नीचे दिए गए बिंदुओं के द्वारा आसानी से समझ सकते हैं। 

अगर दो उम्मीदवारों की दसवीं के अंकों में समानता पाई जाती है तो ऐसी स्थिति में उच्चशैक्षिक योग्यता वाले उम्मीदवार को वरीयता दी जाएगी। 

वह अभ्यर्थी जो आगनवाडी केंद्र की पंचायत के अंतर्गत निवास करता होगा उसे अन्य उम्मीदवारों की तुलना में प्राथमिकता दी जाएगी। 

अगर किन्ही दो उम्मीदवारों की शैक्षिक योग्यताए निवासथान भी समान पाए जाते हैं तो ऐसे उम्मीदवारों में से जिसकी आयुसीमा अधिक होगी उसे वरीयता प्रदान की जाएगी।