Thursday, July 22, 2021

UPMSP UP Board 10th 12th Result 2021 : खत्म होने वाला है यूपी बोर्ड 10वीं 12वीं रिजल्ट का इंतजार

 

UPMSP UP Board 10th 12th Result 2021 : खत्म होने वाला है यूपी बोर्ड 10वीं 12वीं रिजल्ट का इंतजार




UPMSP UP Board 10th 12th Result 2021 : यूपी बोर्ड 10वीं 12वीं रिजल्ट की डेट की घोषणा इस सप्ताह हो सकती है। बताया जा रहा है कि बोर्ड ने काफी हद तक रिजल्ट तैयार कर लिया है। उसे फाइनल टच दिया जा रहा है। हालांकि अभी बोर्ड की तरफ से स्पष्ट नहीं किया गया है कि यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं का रिजल्ट साथ-साथ एक ही दिन जारी किया जाएगा या अलग-अलग। लेकिन इस बात की पूरी उम्मीद है कि शिक्षा मंत्री डॉ. दिनेश शर्मा 25 जुलाई तक यूपी बोर्ड 10वीं 12वीं कक्षा के परिणाम की तिथि जारी कर देंगे। 12वीं के स्‍टूडेंट्स के रोल नंबर अभी तक जारी नहीं किए गए हैं जिसकी मदद से वह अपना परिणाम चेक कर सकेंगे। बोर्ड जल्‍द ही इन स्‍टूडेंट्स के रोल नंबर आधिकारिक वेबसाइट पर जारी करने वाला है।

नतीजों की घोषणा के बाद स्टूडेंट्स अपना रिजल्ट यूपी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट upresults.nic.in और upmsp.edu.in के अलावा livehindustan.com पर भी चेक कर सकेंगे। इस साल राज्य में कक्षा 10वीं, 12 की बोर्ड परीक्षाओं के लिए 56,03,813 उम्मीदवारों ने पंजीकरण कराया था, जिनमें से 29,94,312 कक्षा 12वीं के छात्र हैं और 26,09,501 कक्षा 10वीं के छात्र हैं।


गौरतलब है कि कोरोना संक्रमण के कारण इस वर्ष 10वीं 12वीं बोर्ड की परीक्षा नहीं आयोजित हो पाई। वहीं परीक्षार्थियों को स्क्रूटनी का विकल्प भी इस बार नहीं मिलेगा। बोर्ड परीक्षा परिणाम से असंतुष्ट छात्रों के लिए माध्यमिक बोर्ड की ओर से वैकल्पिक व्यवस्था की भी दी गई है। ये परीक्षार्थी परिणाम घोषित होने के बाद संबंधित विद्यालय के माध्यम से आवेदन करेंगे। हालात सामान्य पर इनकी परीक्षा कराई जाएगी।

10वीं 12वीं रिजल्ट फॉर्मूला
- इस वर्ष हाईस्कूल (10वीं) का रिजल्ट 9वीं के 50% अंकों, 10वीं की प्री बोर्ड लिखित परीक्षा के 50% अंकों और 30% के आंतरिक मूल्यांकन में मिले वास्तविक अंकों को जोड़कर तैयार किया जाएगा। 
- 12वीं का रिजल्ट हाईस्कूल के कुल अंकों के औसत का 50%, 11वीं के 40% और 12वीं प्री बोर्ड के 10% को जोड़कर तैयार किया जाएगा। 10वीं में आंतरिक मूल्यांकन व 12वीं में प्रैक्टिकल के वास्तविक अंक जोड़े जाएंगे।

इस साल परीक्षार्थियों की मेरिट सूची नहीं जारी होगी।

किसी परीक्षार्थी को लिखित परीक्षा में न्यूनतम पासिंग मार्क नहीं मिल पाए हैं लेकिन आंतरिक मूल्यांकन या प्रैक्टिकल में पास है तो उसे बिना किसी अंक के प्रमोट कर दिया जाएगा।