Sunday, July 18, 2021

उप्र सरकार स्कूलों को सिर्फ ट्यूशन फीस लेने के लिए आदेश जारी

 
उप्र सरकार स्कूलों को सिर्फ ट्यूशन फीस लेने के लिए आदेश जारी 




आम आदमी पार्टी (आप) ने निजी स्कूलों द्वारा कोरोना काल में ऑनलाइन पढ़ाई की एवज में पूरी फीस वसूले जाने पर जनता और अभिभावकों में भारी रोष का हवाला देते हुए शनिवार को मांग की उत्तर प्रदेश सरकार स्कूलों को सिर्फ ट्यूशन फीस लेने के लिए आदेश जारी करे।आप ने कहा कि कोरोना काल में आर्थिक रूप से टूट चुकी जनता को तुरन्त राहत देने के लिये सरकार प्रदेश के स्कूलों को तत्काल एक स्पष्ट आदेश जारी करें जिसमें स्कूलों द्वारा 2018-2019 सत्र के ब्रेकअप के आधार पर सिर्फ ट्यूशन फीस ही लेने के निर्देश दिए जाएं। इस मामले को लेकर संघर्षरत अभिभावकों के समर्थन में शनिवार को बयान जारी करते हुए आप की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कहा कि कोरोना काल में रोजगार प्रभावित होने के बाद पूरा प्रदेश त्राहि त्राहि कर रहा है लेकिन पता नहीं सरकार का ध्यान इस तरफ क्यों नहीं जा रहा। उन्होंने कहा कि सरकार स्पष्ट आदेश जारी करके स्कूलों की मनमानी को क्यों नहीं रोकती।

उन्होंने भवन, पुस्तकालय, विकास शुल्‍क, प्रयोगशाला, बिजली, स्विमिंग पूल, खेल आदि मदों में पैसे न लिए जाने के लिए स्‍कूल प्रबंधन को स्पष्ट और सख्त निर्देश देने की सरकार से मांग की है। आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता वैभव माहेश्वरी ने इस बात पर भारी रोष जताया कि सरकार और अदालत के स्पष्ट आदेश हैं कि ऑनलाइन कक्षा से किसी भी छात्र का नाम नहीं काटा जाएगा लेकिन उसके बाद भी मनमानी करते हुए स्कूलों द्वारा हज़ारों बच्चों के नाम काट कर उन्हें ऑनलाइन कक्षा से वंचित कर दिया है।प्रदेश प्रवक्ता ने सरकार से मांग की है कि ऐसा करने वाले स्कूलों पर तत्काल सख्त कार्रवाई की जाए और इन सभी बच्चों के शिक्षा के अधिकार को बहाल किया जाए। माहेश्वरी ने पार्टी की ओर से मांग की कि तुरंत एक विस्तृत आदेश जारी किया जाए और अभिभावकों को राहत दिलाई जाए अन्यथा पार्टी भी स्कूल फीस पर, जनता के समर्थन में एक बड़ा आंदोलन करेगी