Thursday, July 22, 2021

मोदी कैबिनेट का फैसला, लद्दाख में 750 करोड़ की लागत से बनेगा केंद्रीय विश्वविद्यालय

 
मोदी कैबिनेट का फैसला, लद्दाख में 750 करोड़ की लागत से बनेगा केंद्रीय विश्वविद्यालय



लद्दाख में 750 करोड़ की लागत से केंद्रीय विश्वविद्यालय बनेगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में गुरुवार को कैबिनेट की बैठक में यह फैसला लिया गया। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कैबिनेट के निर्णयों की जानकारी देते हुए बताया कि विश्वविद्यालय का पहला चरण चार वर्षों में पूरा किया जाएगा। लद्दाख में केंद्रीय विश्वविद्यालय के निर्माण की राह आसान करने के लिए सेंट्रल यूनिवर्सिटी एक्ट 2009 में संशोधन के लिए बिल भी पेश किया जाएगा। 

उन्होंने कहा कि केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख में केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापित होने से उच्च शिक्षा में क्षेत्रीय असंतुलन दूर करने में मदद मिलेगी और केंद्र शासित प्रदेश का सम्पूर्ण विकास सुनिश्चित किया जा सकेगा। लद्दाख में केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापित होने से छात्रों को उच्च शिक्षा प्राप्त करने का अधिक अवसर मिल सकेगा।

गौरतलब है कि पीएम मोदी ने 15 अगस्त 2020 को स्वतंत्रता दिवस के मौके पर अपने संबोधन में लद्दाख में केंद्रीय विश्वविद्यालय स्थापित किए जाने की घोषणा की थी। 


उन्होंने कहा कि इसके अधिकार क्षेत्र में लेह, कारगिल क्षेत्र भी आयेंगे। क्षेत्र के अन्य विश्वविद्यालयों के लिए यह नया केंद्रीय विश्वविद्यालय एक आदर्श होगा।



ठाकुर ने कहा कि मंत्रिमंडल ने लद्दाख की विकास परियोजनाओं को बेहतर तरीके से चलाने के लिए एक इंटीग्रेटेड मल्टीपर्पज कॉरपोरेशन बनाने का भी फैसला लिया है। यह कॉरपोरेशन उद्योग व पर्यटन के विकास एवं स्थानीय उत्पाद व हस्तशिल्प के मार्केटिंग का कार्य करेगा। यह इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण के लिए लद्दाख की मुख्य कंस्ट्रक्शन एजेंसी के तौर पर कार्य करेगा।