Thursday, June 17, 2021

दिसंबर तक एक लाख युवाओं को नौकरी - CM YOGI

दिसंबर तक एक लाख युवाओं को नौकरी - CM YOGI शिक्षा, पुलिस, स्वास्थ्य विभाग में मिलेंगे सबसे ज्यादा मौके

 


लखनऊ : कोरोना की दूसरी लहर थमने के साथ ही योगी सरकार ने मिशन रोजगार' को रफ्तार दे दी है। प्रदेशभर में आर्थिक गतिविधियों को तेज करने के साथ राज्य सरकार ने सरकारी विभागों में खाली पदों पर भर्ती की प्रक्रिया पूरी करने की ओर कदम बढ़ा दिया है।

 

पिछले चार साल में अलग-अलग विभागों में लगभग 4 लाख सरकारी नौकरियां दे चुकी योगी सरकार का लक्ष्य दिसंबर तक प्रदेश में एक लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने का है। इसके लिए सभी विभागों को प्रक्रिया तेज करने के निर्देश दे दिए गए हैं। अगले कुछ महीनों में जिन विभागों में सबसे अधिक नौकरियां आने वाली है, उसमें शिक्षा, पुलिस, स्वास्थ्य, ऊर्जा और आवाकारी विभाग शामिल हैं। योगी सरकार का लक्ष्य साल के अंत तक अपने कार्यकाल में 5 लाख युवाओं को सरकारी नौकरी देने का है। 

 

एक लाख से ज्यादा महिलाओं को मिल चुकी है नौकरी राज्य सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक सरकार अब तक 1 लाख से अधिक महिलाओं की सरकारी नौकरी दे चुकी है, जबकि मनरेगा के जरिये 1.50 करोड़ श्रमिकों को रोजगार से जोड़ा जा चुका है। स्टार्ट अप इकाइयों से 5 लाख और औद्योगिक इकाइयों से 3 लाख से अधिक युवाओं को भी रोजगार दिया जा चुका है। ओडीओपी के माध्यम से 25 लाख लोगों को रोजगार मिला है। 50 लाख से अधिक एमएसएमई इकाइयों से 1 करोड़ 80 लाख लोगों को यूपी में रोजगार मिला है। 

 

नई उद्योग नीति से 5 लाख से ज्यादा लोगों को रोजगार दिया जा चुका है। 40 लाख से अधिक कामगारों/श्रमिकों की स्किल मैपिंग के बाद रोजगार से जोड़ा गया है। 'जारी रखें ट्रेस, टेस्ट और ट्रीट की नीति' - एनबीटी ब्यूरो, लखनऊ : सीएम संक्रामक बीमारियों जैसे डेंगू, मलेरिया, ने कहा कि जून में एक करोड़ लोगों को योगी आदित्यनाथ ने कहा कि 'ट्रस, टेस्ट चिकनगुनिया का प्रकोप कई जिलों में कोरोना वैक्सीन लगवाने का लक्ष्य रखा एंड ट्रीट' की नीति के तहत कोविड-19 वढ़ता है। वरसात का मौसम शुरू हो गया है। जिस तेजी से वैक्सीन लग रही से वचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को रहा है। 

 

इसके दृष्टिगत संक्रामक रोगों की है, उससे उम्मीद है कि जून में एक करोड़ प्रभावी ढंग से जारी रखा जाए। कोरोना अभी रोकथाम के लिए कार्य योजना बनाकर पूरी से अधिक लोगों को वैक्सीन की डोज लग समाप्त नहीं हुआ है। इसलिए संक्रमण की तैयारी कर ली जाए। जाएगी। मख्यमंत्री ने कहा कि आगामी रोकथाम के संबंध में पूरी सतर्कता और जुलाई से रोजाना 10 लाख वैक्सीन महीनों में कोरोना वैक्सीनेशन की गतिको सावधानी वरती जाए। सीएम ने कहा कि के डोज लगवाने का लक्ष्य दो से तीन गुना बढ़ा कर रोजाना 10 लाख वरसात में इंसेफलाइटिस समेत विभिन्न कोविड की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री डोज से अधिक किए जाने की जरूरत है।