Thursday, June 17, 2021

यूपी टीईटी प्रमाणपत्र भी ताउम्र मान्य

यूपी टीईटी प्रमाणपत्र भी ताउम्र मान्य


 लखनऊ | उत्तर प्रदेश अध्यापक पात्रता परीक्षा (यूपी टीईटी) का प्रमाणपत्र अब आजीवन मान्य होगा। इस संबंध में जल्द अधिसूचना जारी की जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस संबंध में निर्देश जारी कर दिए हैं। इस निर्देश से प्रदेश में टीईटी पास आठ से 10 लाख युवाओं को लाभ मिलेगा। केन्द्रसरकारने बीते दिनों टीईटी का



प्रमाणपत्र आजीवन मान्य करने के निर्देश दिए हैं। अभी तक यह सात वर्ष के लिए मान्य था जबकि यूपी में इसकी मान्यता पांच वर्ष के लिए ही थी। पांच वर्षों की मान्यता के चक्कर में अक्सर युवातीन वर्ष बाद से ही टीईटी देने लगते थे कि यदि बीच में किसी कारणवश इसकी परीक्षा न हो तो उनकी पात्रता बरकरार रहे। अब प्रमाणपत्र आजीवन मान्यहोने से नसिर्फ युवाओं को बल्कि विभाग को भी लाभ होगा और उसे कम युवाओं के लिए परीक्षा का इंतजाम कराना पड़ेगा। हर वर्ष लगभग पांच से सात लाख युवा टीईटी देते हैं।



सरकारी भर्तियों से संबंधित सभी खबरों को अपने मोबाइल पर सबसे पहले पाने के लिए डाउनलोड करें हमारी एंड्राइड ऐप गूगल प्ले स्टोर से 👇
 
 
हमारे आधिकारिक टेलीग्राम चैनल को अभी जॉइन कीजिये और सभी रोजगार संबंधी ख़बरें सबसे पहले पाइये  👇
 
प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी और सामान्य ज्ञान पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें 👇
 
हमारे आधिकारिक वॉट्सएप ग्रुप में जुड़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें 👇