Thursday, May 6, 2021

जुलाई के बाद ही होगा सभी परीक्षाओं पर फैसला

 जुलाई के बाद ही होगा सभी परीक्षाओं पर फैसला

कोरोना संक्रमण के मामलों में बेतहाशा बढ़ोतरी को देखते हुए फिलहाल 12वीं की बोर्ड परीक्षा सहित स्थगित की गई सभी परीक्षाओं को अब जुलाई के बाद ही कराने की तैयारी है। वैसे भी देश भर में कोरोना संक्रमण की जिस तरह से गंभीर स्थिति बनी हुई है, उसमें इसके सामान्य होने में अगले दो से तीन महीने का समय लगने की उम्मीद जताई गई है। हालांकि इसे लेकर कोई भी अंतिम फैसला एक जून को पूरी स्थिति को देखते हुए लिया जाएगा।
कोरोना के चलते अब तक स्थगित परीक्षाओं सहित अगस्त तक प्रस्तावित सभी परीक्षाओं को लेकर केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय और संबंधित परीक्षाओं से जुड़ी एजेंसियों के बीच मंथन शुरू हो गया है। स्थिति सामान्य होने पर सबसे पहले सीबीएसई की 12वीं बोर्ड की परीक्षा कराने की योजना बनाई है। हालांकि, एक बड़ा वर्ग इन परीक्षाओं को 10वीं की तरह रद करके छात्रों को आंतरिक आकलन के आधार पर ही प्रमोट करने के पक्ष में है। फिलहाल मंत्रालय इस विषय पर विशेषज्ञों से सलाह मशविरे में जुटा है। विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) से भी इसे लेकर राय ली गई है। इसके साथ ही नीट (नेशनल एलिजबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट) की अंडर ग्रेजुएट की एक अगस्त को प्रस्तावित परीक्षा को भी टाला जा सकता है। वैसे भी संक्रमण की स्थिति को देखते हुए तारीख के एलान के बाद अभी तक इसके आवेदन की प्रक्रिया शुरू नहीं हुई है। माना जा रहा है कि अब इससे पहले 12वीं की बोर्ड परीक्षा व जेईई मेंस जैसी स्थगित की गई परीक्षाएं कराई जाएंगी। अब तक जिन प्रमुख परीक्षाओं को स्थगित किया जा चुका है, उनमें सीबीएसई की 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं के साथ जेईई मेंस के अप्रैल व मई सत्र की परीक्षाएं शामिल है। इसके साथ ही जिन परीक्षाओं के आगे टलने की उम्मीद है, उनमें जेईई एडवांस, जो जुलाई में प्रस्तावित है व अगस्त में प्रस्तावित नीट अंडर ग्रेजुएट शामिल है