Saturday, April 10, 2021

WEEKLY TOP 10 CURRENT AFFAIRS EVENT'S :: 05 अप्रैल से 10 अप्रैल 2021 , क्लिक करे और पढ़े

WEEKLY TOP 10 CURRENT AFFAIRS EVENT'S ::  05 अप्रैल से 10 अप्रैल 2021 , क्लिक करे और पढ़े 





 1.कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने मधुकांति पोर्टल किया लॉन्च

इस मधुक्रांति पोर्टल को ऑनलाइन पंजीकरण के लिए निर्मित किया गया है ताकि डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म पर शहद के ट्रेसेबिलिटी स्रोत के साथ-साथ अन्य मधुमक्खी उत्पादों को प्राप्त किया जा सके. यह शहद की गुणवत्ता और मिलावट के स्रोत की जांच करने में भी मदद करेगा.


किसान उत्पादक संगठनों को विपणन में सहायता प्रदान करने के लिए NAFED ने 14-15 हनी कॉर्नर्स भी निर्मित किए हैं और 05 NAFED हरेक बाजार में एक हनी कार्नर है. फेडरेशन द्वारा आगामी 200 प्रमुख NAFED स्टोरों में भी अधिक हनी कॉर्नर्स निर्मित किए जाएंगे जो शहद के लिए बाजार समर्थन को बढ़ावा देंगे.


2.भारत और मालदीव ने आतंकवाद से निपटने हेतु वैश्विक सहयोग मजबूत करने की अपील की

दोनों देशों ने आतंकवाद निरोधक कार्रवाई, हिंसक उग्रवाद को रोकने तथा कट्टरपंथ को कम करने पर संयुक्त कार्यसमूह की पहली बैठक में यह बात कही. विदेश मंत्रालय में सचिव (पश्चिम) विकास स्वरूप के नेतृत्व में भारतीय पक्ष ने इस बैठक में भाग लिया, जबकि मालदीव के दल का नेतृत्व विदेश सचिव अब्दुल गफूर मुहम्मद ने किया.


भारत-मालदीव संबंध दक्षिण एशिया की नजर से काफी महत्वपूर्ण हैं. भारत-मालदीव के बीच द्विपक्षीय संबंधों की शुरुआत मालदीव के साल 1965 में ब्रितानी शासन से आज़ादी के साथ हुई. भारत-मालदीव ने अपनी समुद्री सीमाओं का आधिकारिक रूप से साल 1976 में फैसला कर लिया था. दोनों देशों के मध्य साल 1982 में व्यापार समझौते पर भी हस्ताक्षर हुए थे.


3.भारत ने रचा इतिहास, टोक्यो ओलंपिक में पहली बार हिस्सा लेंगे देश के चार नाविक

पहली बार ऐसा होगा जबकि टोक्यो में होने वाले खेलों में देश के चार सेलर (नाविक) हिस्सा लेंगे. 07 अप्रैल को नेत्रा कुमानन टोक्यो खेलों के लिए क्वालिफाई करने वाली पहली भारतीय महिला सेलर बनी थीं. उन्होंने मुसानाह ओपन चैंपियनशिप के जरिए लेजर रेडियल स्पर्धा में क्वालिफाई किया. यह प्रतियोगिता एशियाई ओलंपिक क्वालिफाइंग टूर्नामेंट था.


भारत पहली बार ओलंपिक में तीन स्पर्धाओं में चुनौती पेश करेगा. अब तक भारत ने ओलंपिक की सिर्फ एक ही स्पर्धा में चुनौती पेश की थी लेकिन चार मौकों पर उसके दो सेलर खेलों के महाकुंभ में जगह बनाने में सफल रहे हैं.


4.भारतीय रेलवे ने दुनिया के सबसे ऊंचे रेलवे ब्रिज के आर्च का काम पूरा किया

इस रेलवे ब्रिज की ऊंचाई चिनाब नदी के तल से 359 मीटर है, जो अपने आप में एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है. कोरोना वायरस के इस चुनौती पूर्ण समय में आर्क निर्माण कर रेलवे ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है. रेलवे मंत्रालय और रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इसका एक वीडियो अपने-अपने ट्वीटर अकाउंट पर साझा किया है.


ये ऊधमपुर, श्रीनगर, बारामूला रेल लिंक प्रोजेक्ट का हिस्सा है. ये पूरा प्रोजेक्ट 272 किलोमीटर लंबा है. कटरा से बनिहाल तक के 111 किलोमीटर लंबे हिस्से को बनाने में ये पुल एक महत्वपूर्ण कड़ी था. इसे रेलवे ने 10 वर्षों में पूरा किया है. इस पुल के बनने से भारतीय रेल नेटवर्क अब कश्मीर से कन्याकुमारी तक जुड़ गया है.


5.आरबीआई ने पेमेंट बैंक में बैलेंस की सीमा को बढ़ाकर 2 लाख रुपये किया

आरबीआई ने 07 अप्रैल 2021 को मौद्रिक नीति समीक्षा पेश की है. मौद्रिक नीति में केंद्रीय बैंक ने डिजिटल पेमेंट्स बैंक को बड़ा प्रोत्साहन दिया है. गौरतलब है कि पेमेंट बैंक काफी समय से डिपॉजिट लिमिट बढ़ाने की मांग कर रहे थे. इससे पहले सरकार ने डिपॉजिट इंश्‍योरेंस लिमिट को पांच लाख रुपये तक बढ़ाया था.


आरबीआई का कहना है कि वित्तीय समावेशन को आगे बढ़ाने और पेमेंट बैंकों को अधिक लचीलापन बनाने के उद्देश्य से ही अधिकतर सीमा को बढ़ाया गया है. आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास की तरफ से सीमा बढ़ाने के केंद्रीय बैंक के फैसले की घोषणा किए जाने के एक दिन बाद आरबीआई ने आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा कर दी है.


6.यूएई के पहले परमाणु ऊर्जा संयंत्र का वाणिज्यिक संचालन शुरु, मिलेगी अधिक स्वच्छ ऊर्जा

संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी, अबू धाबी के अल ढफरा क्षेत्र में स्थित बाराकाह परमाणु ऊर्जा संयंत्र, संयुक्त अरब अमीरात का पहला परमाणु ऊर्जा संयंत्र है. यह तेल उत्पादन संयुक्त अरब अमीरात का एक हिस्सा है जो अपने ऊर्जा मिश्रण में विविधता लाने का प्रयास कर रहा है.


संयुक्त अरब अमीरात और अमेरिका ने एक द्विपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं, जिसे शांतिपूर्ण परमाणु ऊर्जा सहयोग के लिए '123 समझौता' के नाम से जाना जाता है. इस ‘123 समझौते’ ने संयुक्त अरब अमीरात में बाराकाह परमाणु ऊर्जा संयंत्र के विकास में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है.


7.न्यूजीलैंड ने कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों के कारण भारतीयों के प्रवेश पर लगाई अस्थायी रोक

न्यूजीलैंड का यह फैसला उस समय आया है जब देश में कोरोना संक्रमण के मामले 1 लाख से ज्यादा आने लगे हैं. बता दें कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का तीसरा सबसे प्रभावित देश है. विश्व में सबसे ज्यादा केस हर दिन भारत में ही आ रहे हैं.


न्यूजीलैंड के प्रधानमंत्री जेसिंडा ने कहा कि सरकार अन्य कोविड-19 हॉट स्पॉट देशों से आए लोगों पर नजर बनाए हुए है. उन्होंने कहा कि यह एक स्थायी व्यवस्था नहीं है, बल्कि एक अस्थायी उपाय है. इससे कोरोना के मामलों को कम करने में मदद मिलेगी.


8.फोर्ब्स ने जारी की साल 2021 के सबसे अमीर लोगों की सूची

भारत के मुकेश अंबानी फिर से एशिया के सबसे अमीर शख्‍स बने हैं. जबकि, वे दुनिया के 10वें सबसे धनी व्‍यक्ति हैं. भारत के 10 सबसे दौलतमंद लोगों की सूची में अंबानी पहले और अडानी दूसरे नंबर पर हैं. वहीं, अमेजन के मालिक जेफ बेजोस दुनिया के सबसे धनी शख्‍स हैं.


विश्व के सबसे अमीर लोगों की इस लिस्ट में दूसरे स्थान पर एलन मस्क का नाम है. टेस्ला के शेयरों में 705 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी के कारण ही वह 151 बिलियन डॉलर के साथ दुनिया के दूसरे सबसे अमीर आदमी बने हैं.


9.2021 में 12.5 प्रतिशत रह सकती है भारत की वृद्धि दर: IMF

मुद्राकोष ने विश्व बैंक के साथ होने वाली सालाना बैठक से पहले यह रिपोर्ट जारी की है. अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने अपने अनुमान में कहा है कि वित्त वर्ष 2021-22 में भारत की विकास दर 12.5 प्रतिशत पर रह सकती है. आईएमएफ ने जनवरी 2021 में अपने अनुमान में कहा था कि वित्त वर्ष 2021-22 में भारत की अर्थव्यवस्था 11.5 प्रतिशत की दर से आगे बढ़ेगी.


आईएमएफ की मुख्य अर्थशास्त्री गीता गोपीनाथ ने कहा कि हम वैश्विक अर्थव्यवस्था हेतु पूर्व के अनुमान के मुकाबले मजबूत पुररुद्धार की उम्मीद कर रहे हैं. वैश्विक अर्थव्यवस्था की वृद्धि दर साल 2021 में 6 प्रतिशत और 2022 में 4.4 प्रतिशत रहने का अनुमान है. पिछले साल यानी 2020 में विश्व अर्थव्यवस्था में 3.3 प्रतिशत की गिरावट आई थी.


10.RBI ने ब्याज दरों में नहीं किया बदलाव, रेपो रेट 4 प्रतिशत पर बरकरार

आरबीआई गवर्नर शशिकांत दास ने 07 अप्रैल 2021 को मॉनेटरी पॉलिसी का घोषणा किया है. इससे पहले भी फरवरी में ब्याज दरों में किसी तरह का बदलाव नहीं हुआ था. आरबीआई ने वित्त वर्ष 2021-22 में जीडीपी में 10.5 प्रतिशत की ग्रोथ का अनुमान जाहिर किया है.


केंद्रीय बैंक की एमपीसी की बैठक ऐसे समय में हुई जब देश में कोविड-19 के मामलों में लगातार वृद्धि देखने को मिल रही है. इससे कई राज्यों को स्थानीय स्तर पर लॉकडाउन जैसी कड़ी पाबंदियां लागू करनी पड़ी हैं. इससे आने वाले समय में आर्थिक परिदृश्य को लेकर अनिश्चितता पैदा हो गई है.





👉  Download Govt Jobs UP Android App