Monday, April 19, 2021

UPPSC - बिगड़ेगा कैलेंडर और भर्तियाँ होंगी प्रभावित, यह भातियाँ हो सकतीं हैं प्रभावित

UPPSC - बिगड़ेगा कैलेंडर और भर्तियाँ होंगी प्रभावित, यह भातियाँ हो सकतीं हैं प्रभावित

 


प्रयागराज : कोरोना संक्रमण के मद्देनजर प्रदेश में 15 मई तक हर रविवार को लाकडाउन घोषित है। दफ्तरों में कर्मचारियों की संख्या आधी कर दी गई है। मौजूदा स्थिति में उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग का परीक्षा कैलेंडर बिगड़ता नजर आ रहा है। रविवार को लाकडाउन लगने से परीक्षाएं स्थगित करनी पड़ सकती है। कुछ इसी तरह उत्तर प्रदेश उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग का काम भी प्रभावित होने वाला है। इसके चलते प्राचार्य पद के अभ्यर्थियों का साक्षात्कार व शैक्षिक दस्तावेजों के सत्यापन का काम लंबे समय के लिए टाला जा सकता है। इसके मद्देनजर अभ्यर्थी चिंतित हैं।

लोकसेवा आयोग 17 अप्रैल को प्रस्तावित प्रवक्ता राजकीय डिग्री कालेज (स्क्रीनिंग) परीक्षा-2020 स्थगित कर चुका है। वहीं, 23 मई को प्रधानाचार्य श्रेणी-2/ उप प्रधानाचार्य/सहायक निदेशक (स्क्रीनिंग) परीक्षा-2019 व 30 मई को सम्मिलित राज्य कृषि सेवा (प्रारंभिक) परीक्षा-2020 की परीक्षा प्रस्तावित है। इन परीक्षाओं में अभ्यर्थियों की संख्या हजारों में है। कोरोना से अत्यधिक प्रभावित शहरों में लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, वाराणसी व गोरखपुर हैं। आयोग की परीक्षाओं के अधिकतर केंद्र इन्हीं शहरों में बनते हैं। मौजूदा स्थिति को देखते हुए मई महीने में प्रस्तावित भर्ती परीक्षाओं को स्थगित करना पड़ सकता है। इसी प्रकार उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग विज्ञापन संख्या-49 के तहत निकली 290 प्राचार्य पद की भर्ती का कार्यक्रम आगे बढ़ाने का मन बना चुका है। आयोग 12 से 30 अप्रैल तक का साक्षात्कार व 13 से 24 अप्रैल तक चलने वाले अभ्यर्थियों के शैक्षिक दस्तावेजों के सत्यापन को रोक चुका है। अब 30 अप्रैल तक होने वाले दस्तावेजों का सत्यापन रोकने की तैयारी है। स्थिति न बदली तो मई महीने का साक्षात्कार भी टाला जाएगा।

’>>संक्रमण के मद्देनजर प्रदेश में 15 मई तक हर रविवार को लाकडाउन घोषित,

’>>लोकसेवा आयोग व उच्चतर शिक्षा सेवा आयोग की भर्तियों पर पड़ेगा असर

Download Govt Jobs UP Android App