Thursday, April 8, 2021

UP: मेरठ-बरेली में भी लगा नाइट कर्फ्यू, अब तक 8 बड़े शहरों में पाबंदियां लागू

 UP: मेरठ-बरेली में भी लगा नाइट कर्फ्यू, अब तक 8 बड़े शहरों में पाबंदियां लागू




जैसे-जैसे कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं वैसे वैसे यूपी के बड़े शहरों में भी नाइट कर्फ्यू का ऐलान हो रहा है। बरेली और मेरठ में भी नाइट कर्फ्यू लगाने की घोषण कर दी गई। बरेली में शुक्रवार रात से कर्फ्यू लगाया जाएगा। अब तक यूपी के आठ बड़े शहरों में नाइट कर्फ्यू का ऐलान हो चुका है। बरेली-मेरठ से पहले लखनऊ, वाराणसी, कानपुर, प्रयागराज, गौतम बुद्ध नगर (नोएडा) और गाजियाबाद में नाइट कर्फ्यू लगाने की घोषणा हो चुकी है।


बुधवार को सीएम योगी ने सभी जिलाधिकारियों को खुद नाइट कर्फ्यू और पाबंदियों पर निर्णय लेने के लिए अधिकृत कर दिया था। सीएम योगी ने 100 से ज्यादा एक्टिव केस वाले जिलों में रात में सख्ती बरतने और 500 से ज्यादा एक्टिव केस वाले शहरों में नाइट कर्फ्यू लगाने का निर्देश दिया था। इसी के बाद सबसे पहले लखनऊ और वाराणसी में नाइट कर्फ्यू का ऐलान हुआ। 


बरेली जिलाधिकारी के अनुसार शुक्रवार से नाइट कर्फ्यू लगाया जाएगा। रात 9 बजे से सुबह छह बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सभी तरह की पाबंदियां रहेंगी। इसके साथ ही 12वीं तक के स्कूल-कॉलेजों को बंद करने का आदेश भी दिया गया है। जिन स्कूलों में प्रैक्टिकल और परीक्षाएं हो रही हैं, वह होती रहेंगी। फैक्ट्रियां पहले की तरह चलती रहेंगी। कर्मचारी परिचय पत्र दिखाकर आवागमन कर सकते हैं। जरूरी सामानों की आपूर्ति और चिकित्सा तथा अन्य जरूरी सेवाओं को पाबंदियों से छूट रहेगी। 


मेरठ में 18 अप्रैल तक नाइट कर्फ्यू लगाने का ऐलान किया गया है। रात दस बजे से सुबह पांच बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा। इस दौरान आवश्यक सेवाओं को छोड़कर सबकुछ बंद रहेगा। अतिआवश्यक कार्यों को छोड़कर सभी गतिविधिया बंद रहेंगी। वहीं स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर भी 18 अप्रैल तक बन्द रहेंगे। स्कूल और कॉलेज में चल रही परीक्षा यथावत जारी रहेगी। इसके अलावा स्कूल और कॉलेज में अध्यापकों और अन्य स्टाफ को बुलाने के लिए बीएसए, डीआओएस और उच्च शिक्षा अधिकारी से अनुमति लेनी होगी।


रात्रि कर्फ्यू निर्णय के लिए गुरुवार को पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की बैठक बुलाई गई थी। कमिश्नर सुरेंद्र सिंह ने बताया था कि पूरे जिले में तो रात्रि कर्फ्यू नहीं लगाया जाएगा लेकिन तेजी से फैल रहे संक्रमण वाले इलाकों में निर्णय लिया जा सकता है। 


👉  Download Govt Jobs UP Android App