Monday, April 19, 2021

अधीनस्थ अदालतों में स्टेनोग्राफर भर्ती को लेकर हाईकोर्ट से बड़ी खबर

अधीनस्थ अदालतों में स्टेनोग्राफर भर्ती को लेकर हाईकोर्ट से बड़ी खबर


हाईकोर्ट ने अधीनस्थ अदालतों में 2015 की स्टेनोग्राफर भर्ती को दिया वैध करार,


हाईकोर्ट की डिवीजन बेंच ने नये सिरे से टेस्ट कराने का आदेश किया रद्द,


कोर्ट के फैसले से दो हजार से अधिक चयनित कर्मचारियों को मिली बड़ी राहत,


कोर्ट ने कहा भर्ती परीक्षा में अनियमितता की कोई शिकायत नहीं है,


भर्ती नियमानुसार हुई है, केवल अभ्यर्थियों की टाइप टेस्ट के टाइप फान्ट को लेकर शिकायत की गयी,


इस शिकायत पर नये सिरे से टेस्ट लेने  का आदेश नहीं दिया जा सकता,


हाईकोर्ट की डिवीजन बेंच ने द्वितीय व तृतीय चरण की परीक्षा रद्द कर नये सिरे से कराने के एकल पीठ के आदेश को किया रद्द,


कहा भर्ती प्रक्रिया नियमावली 2013 के अनुसार पूरी की गयी है,


पिछले पांच वर्ष से कार्यरत चयनितों के कार्य के खिलाफ किसी जिले से भी  शिकायत नहीं है,


निशांत यादव व 28अन्य,रूपेश कुमार व 133अन्य,शिव प्रताप सिंह व 12 अन्य व नीलम सेन व 162 अन्य की विशेष अपीलों पर दिया आदेश,


हाईकोर्ट ने 2014 में अधीनस्थ अदालतों में लिपिक व स्टेनोग्राफर के 2341पद विज्ञापित किये,


2015 में लिखित परीक्षा मे सफल अभ्यर्थियों का टाइप टेस्ट लिया गया,


स्टेनोग्राफर के टाइप टेस्ट के फान्ट बदलने पर आपत्ति की गई,


 मंगल फान्ट से टेस्ट लिया गया, पांच अभ्यर्थियो ने यह कहते हुए याचिका दायर की उन्होंने क्रुति देव फान्ट से तैयारी की थी,


याचियों का आरोप 2220 लोगों ने टाइप टेस्ट दिया और 2369 लोगों को सफल घोषित किया गया है,


शून्य व माइनस अंक पाने वाले भी चयनित हुए हैं,


कार्यवाहक चीफ जस्टिस संजय यादव और जस्टिस प्रकाश पाडिया की खंडपीठ ने दिया आदेश।


Download Govt Jobs UP Android App