Thursday, April 22, 2021

प्रवक्ता चयनितों के नियुक्ति का इंतजार बढ़ा,परेशानी

 प्रवक्ता चयनितों के नियुक्ति का इंतजार बढ़ा,परेशानी


प्रयागराज : राजकीय डिग्री कालेज में प्रवक्ता पद पर चयनित अभ्यर्थियों की नियुक्ति का इंतजार बढ़ता जा रहा है। पहले ऑनलाइन प्रक्रिया तय करने में काफी समय लग गया। इधर, उच्च शिक्षा निदेशक डॉ. अमित भारद्वाज सहित कई अधिकारियों-कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने से काउंसिलिंग का काम रुका है। कोरोना संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए काउंसिलिंग जल्द होती नजर नहीं आ रही है।


उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने सीधी भर्ती के तहत राजकीय डिग्री कालेजों के लिए प्रवक्ता पद के लिए आवेदन लिया था। फरवरी महीने में अलग-अलग विषयों के 712 अभ्यर्थी सफल घोषित किए गए। उम्मीद थी कि 15 मार्च तक चयनितों की काउंसिलिंग कराकर नियुक्ति दे दी जाएगी। अभी तक अभ्यर्थियों का चयन करके ऑफलाइन काउंसिलिंग कराई जाती थी। इससे कालेजों के आवंटन में गड़बड़ी की शिकायत होती थी। साथ ही काउंसिलिंग प्रक्रिया पूरी होने में महीनों का समय लगता था। उच्च शिक्षा निदेशालय ने ऑनलाइन काउंसिलिंग कराने का निर्णय ले लिया। एनआइसी लखनऊ को साफ्टवेयर बनाने की जिम्मेदारी दी गई। अप्रैल मध्य में काउंसिलिंग की तैयारी थी। निदेशक व निदेशालय के आधा दर्जन से अधिक अधिकारी-कर्मचारियों के कोरोना संक्रमित होने से सारी प्रक्रिया रुकी है।

चयन के दो महीने बाद भी नहीं हुई काउंसिलिंग