Monday, April 12, 2021

कोरोना वायरस के बढ़ते केसों के बावजूद प्रदेश में अभी नहीं लग रहा लॉक डाउन , 12 तक के स्कूल और कोचिंग संस्थान 30 अप्रैल तक बंद

कोरोना वायरस के बढ़ते केसों के बावजूद प्रदेश में अभी नहीं लग रहा लॉक डाउन , 12 तक के स्कूल और कोचिंग संस्थान  30 अप्रैल तक बंद
 


 


प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रतिबंध और बढ़ा दिए गए हैं। पहली से बारहवीं तक के सभी स्कूल और कोचिंग संस्थान 30 अप्रैल तक बंद कर दिए गए हैं। हालांकि पूर्व निर्धारित परीक्षाएं हो सकेंगी। वहीं, शादी समेत अन्य सार्वजनिक समारोहों में मेहमानों की संख्या और सीमित कर दी गई है। समारोह अगर बंद स्थान पर है तो निर्धारित क्षमता के 50 फीसदी, लेकिन एक समय में अधिकतम 50 मेहमानों की ही अनुमति होगी। वहीं, खुले स्थान पर कार्यक्रम में क्षमता से 50 फीसदी, लेकिन एक समय में अधिकतम 100 से ज्यादा लोग नहीं रहेंगे। यही नहीं, मंदिरों में प्रसाद चढ़ाने और कलावा बांधने पर भी रोक लगा दी गई है। इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का पूरा पालन करना होगा।



मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में रविवार को कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम से जुड़ी कार्यवाही की समीक्षा के दौरान टीम-11 की बैठक में स्कूल बंद करने का निर्णय लिया गया। स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आनंद ने बताया कि 28 अप्रैल से परिषदीय स्कूलों में होने वाले असेस्मेंट भी नहीं होंगे। सीएम के साथ बैठक के बाद मुख्य सचिव राजेंद्र तिवारी ने कोरोना की नई गाइडलाइन भी जारी कर दी।



इस बीच, यूपी में रविवार को 15353 नए संक्रमित मरीज मिले, जबकि 67 मरीजों की मौत हो गई। राजधानी लखनऊ में 4,444 मरीज मिले जबकि 31 लोगों की जान चली गई। यूपी और राजधानी दोनों में यह नया रिकॉर्ड है। प्रदेश में अब एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 71,241 हो गई है।


प्रदेश में तेजी से बढ़ते कोरोना संक्रमण के मद्देनजर पहली से बारहवीं तक के सभी स्कूल और कोचिंग संस्थान 30 अप्रैल तक बंद रहेंगे। हालांकि पूर्व निर्धारित परीक्षाएं हो सकेंगी। आवश्यकता के हिसाब से शिक्षकों व अन्य स्टाफ को बुलाया जा सकेगा।


रविवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में आयोजित कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम से जुड़ी कार्यवाही की समीक्षा के लिए आयोजित टीम 11 की बैठक में यह निर्णय लिया गया। इसके बाद बेसिक शिक्षा विभाग की अपर मुख्य सचिव रेणुका कुमार ने पहली से आठवीं तक के सभी स्कूलों को 30 अप्रैल तक बंद करने का शासनादेश जारी कर दिया।


उन्होंने निर्देश दिए कि 30 अप्रैल तक स्कूल बंद रहेंगे। छात्र-छात्राएं उपस्थित नहीं हो सकेंगे। यदि विद्यालय में कोई प्रशासकीय कार्य कराया जाना है तो कोविड-19 प्रोटोकॉल के पालन के तहत कराया जाएगा। जिन स्कूलों में पूर्व निर्धारित परीक्षाएं चल रही हैं, वे खुले रहेंगे। स्कूल शिक्षा महानिदेशक विजय किरन आनंद ने बताया कि 28 अप्रैल से परिषदीय स्कूलों में होने वाले असेस्मेंट भी नहीं होंगे। 



👉  Download Govt Jobs UP Android App