Tuesday, March 16, 2021

UPTET 2020 ::: टीईटी के लिए आवेदन 18 MAY से , 25 जुलाई को परीक्षा होगी आयोजित

UPTET 2020 ::: टीईटी के लिए आवेदन 18 MAY से , 25 जुलाई को परीक्षा होगी आयोजित 



अध्यापक पात्रता परीक्षा-2020 (टीईटी) 25 जुलाई को होगी। इसके लिए विज्ञापन 15 मई को प्रकाशित किया जाएगा। आवेदन लेने की शुरुआत 18 मई से होगी। इस संबंध में बेसिक शिक्षा विभाग ने आदेश जारी कर दिया है। 20 अगस्त को इसका रिजल्ट जारी होगा।

टीईटी के लिए आवेदन ऑनलाइन लिए जाएंगे। प्रवेश पत्र भी ऑनलाइन ही डाउनलोड किया जा सकेगा। पिछले वर्ष कोरोना संक्रमण के कारण टीईटी नहीं हो पाई थी जबकि बीटीसी व बीएड अभ्यर्थी इसकी मांग कर रहे थे क्योंकि विभाग में अब भी 51 हजार शिक्षकों के पद खाली हैं। माना जा रहा है कि राज्य सरकार चुनाव से पहले भर्ती की घोषणा कर सकती है। इससे पहले आठ जनवरी 2020 को टीईटी हुई थी और इसमें 15 लाख से ज्यादा अभ्यर्थी शामिल हुए थे।

यूपीटेट 2021 की खास तारीखें:
पंजीकरण शुरू होगा- 18 मई से
पंजीकरण होगा- एक जून तक

आवेदन शुल्क जमा होगा- दो जून तक
आवेदन पूरा होगा- तीन जून तक

परीक्षा केन्द्र निर्धारित होंगे- 15 जून तक
प्रवेश पत्र प्राप्त होंगे-14 जुलाई से

परीक्षा होगी- 25 जुलाई को सुबह 10 से 12.30 व जूनियर के लिए दोपहर 2.30 से 5 बजे तक
उत्तरमाला जारी होगी- 29 जुलाई को

आनलाइन आपत्तियां ली जाएंगी- दो अगस्त को
रिजल्ट आएगा - 20 अगस्त को

टीईटी अभ्यर्थी परीक्षा के लिए भर सकेंगे तीन जिलों का विकल्प
अध्यापक पात्रता परीक्षा के लिए इस बार विश्वविद्यालयों को भी परीक्षा केन्द्र बनाया जा सकेगा। अभ्यर्थियों को इस बार परीक्षा केन्द्र के लिए तीन जिलों का विकल्प भी भरना होगा। इस संबंध में राज्य सरकार अध्यापक पात्रता परीक्षा के मार्गदर्शी सिद्धांतों में संशोधन जारी कर दिया है।

अभी तक महाविद्यालयों को परीक्षा केन्द्र बनाया जाता था लेकिन इस बार यदि विश्वविद्यालय सहमत होंगे तो वहां परीक्षा केन्द्र बनाया जाएगा। जिन केन्द्रों पर किसी भी परीक्षा में सामूहिक नकल या पेपर आउट करने जैसी शिकायतें होंगी, उन्हें केन्द्र नहीं बनाया जाएगा। सामान्य श्रेणी के अभ्यर्थियों को 600 रुपये परीक्षा शुल्क देना होगा। एससी-एसटी के लिए 400 रुपये और विकलांग श्रेणी के लिए 100 रुपये शुल्क तय किया गया है। प्राइमरी व उच्च की परीक्षा के लिए एक ही आवेदन पत्र भरना होगा लेकिन शुल्क अलग-अलग लिया जाएगा।

टीईटी प्रमाणपत्र पांच साल के लिए मान्य होगा। यदि अभ्यर्थी चाहेंगे तो ओएमआर पत्रक एक हजार रुपये शुल्क देकर परीक्षा नियामक प्राधिकारी से ले सकेंगे। वहीं उत्तरमाला पर आपत्ति दर्ज करने के लिए 500 रुपये प्रति प्रश्न देने होंगे। यदि आपत्ति सही पाई गई तो ये पैसा वापस कर दिया जाएगा।


 


👉Download Govt Jobs UP Android App