Tuesday, March 2, 2021

UPPSC ::: अभिलेख पेश न करने पर 14 शिक्षकों का चयन निरस्त , राजकीय विद्यालयों में हुआ था चयन

UPPSC ::: अभिलेख पेश न करने पर  14 शिक्षकों का चयन निरस्त , राजकीय विद्यालयों  में हुआ था चयन 




 

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने आवश्यक अभिलेख प्रस्तुत न करने पर कई अभ्यर्थियों का चयन निरस्त कर दिया है। समाज कल्याण विभाग के तहत राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय में प्रवक्ता नागरिक शास्त्र के एससी वर्ग में चयनित विनीत कुमार व प्रवक्ता अंग्रेजी अनारक्षित वर्ग के दिनेश शर्मा का चयन निरस्त किया गया है। जीआईसी में प्रवक्ता रसायन विज्ञान के चयनित अभ्यर्थी संतोष कुमार, प्रवक्ता नागरिक शास्त्र के संदीप कुमार व दिनेश सिंह का चयन निरस्त हुआ है।


राज्य शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद की इकाइयों के लिए चयनित प्रवक्ता गणित के रोहित शर्मा, प्रवक्ता रसायन विज्ञान के प्रवीन सैनी, प्रवक्ता जीव विज्ञान अखिलेश कुमार सरोज व सरिता, प्रवक्ता सामाजिक विज्ञान जगन्नाथ, प्रवक्ता समाजकार्य मनोहर लाल कुशवाहा, प्रवक्ता गृह विज्ञान में चयनित आंचल सिंह व मोनिका, प्रवक्ता मनोविज्ञान साधना यादव का चयन निरस्त किया गया है। निरस्तीकरण के बाद श्रेष्ठता सूची के अन्य उपयुक्त अभ्यर्थी को संस्तुत किया गया है।


सहायक अध्यापक हिन्दी के अभ्यर्थी परेशान

राजकीय विद्यालयों में सहायक अध्यापक हिन्दी के जिन अभ्यर्थियों की फाइल सत्यापन के बाद भी रुकी है वे परेशान हैं। अभ्यर्थियों का कहना है कि हाईकोर्ट ने सिर्फ 16 अप्रैल 2018 तक ही ऑफलाइन आवेदन लेने को कहा था लेकिन आयोग ने 4 से 14 जून 2018 के बीच आवेदन स्वीकार किए। 14 जून से पूर्व अभ्यर्थियों ने अपनी शैक्षिक अर्हता पूरी कर ली थी। लेकिन आयोग ने अभी तक उनकी फाइल शिक्षा निदेशालय को नहीं भेजी है।

👉Download Govt Jobs UP Android App