Sunday, March 21, 2021

CCSU Exam 2021: 12 अप्रैल से होंगी चौधरी चरण सिंह विश्वविदयाल की मुख्य परीक्षाएं

 CCSU Exam 2021: 12 अप्रैल से होंगी चौधरी चरण सिंह विश्वविदयाल की मुख्य परीक्षाएं




 चौ.चरण सिंह विश्वविद्यालय में सत्र 2020-21 की मुख्य परीक्षाएं 12 अप्रैल से 15 जून तक होंगी। फाइनल ईयर के पेपर सबसे पहले होंगे। विश्वविद्यालय 30 जून तक यूजी-पीजी फाइनल के रिजल्ट जारी करेगा। परीक्षाएं तीन पालियों में होंगी। यूजी-पीजी प्राइवेट और यूजी रेगुलर में अंतिम वर्ष के पेपर बीते वर्षों की तरह ऑब्जेक्टिव पैटर्न पर होंगे।


विश्वविद्यालय जल्द ही परीक्षा कार्यक्रम घोषित कर देगा। मुख्य परीक्षा में चार लाख परीक्षार्थी शामिल होंगे। कुलपति प्रो.एनके तनेजा, प्रोवीसी प्रो.वाई विमला और रजिस्ट्रार धीरेंद्र कुमार की मौजूदगी में हुई परीक्षा समिति की बैठक में उक्त निर्णय हुआ। रजिस्ट्रार के अनुसार विश्वविद्यालय अंतिम वर्ष के पेपर सबसे पहले कराते हुए 30 जून तक रिजल्ट घोषित करेगा।


एमएससी फिजिक्स में दोबारा परीक्षा नहीं

विश्वविद्यालय ने आठ मार्च को हुए एमएससी तृतीय सेमेस्टर फिजिक्स का पेपर दोबारा नहीं होगा। छात्रों ने इस पेपर के सिलेबस से बाहर होने का दावा किया था। कमेटी ने छात्रों के दोबारा पेपर कराने या अतिरिक्त नंबर देने का सुझाव दिया था। विश्वविद्यालय ने इसमें अतिरिक्त नंबर के विकल्प को चुना।

10-12 वीं में नाम बदला तभी विश्वविद्यालय में भी बदलेगा


मेरठ। पेपर अन्य नाम से देने के बाद फिर से नाम बदलने के प्रस्तावों पर विश्वविद्यालय सीधे विचार नहीं करेगा। विश्वविद्यालय के अनुसार यदि छात्र निर्धारित प्रक्रिया पूरी करते हुए 10-12वीं के प्रमाण पत्र और आधार कार्ड में नाम परिवर्तित करा लेता है तो विश्वविद्यालय भी जारी प्रमाण पत्रों में नाम बदल देगा। बिना 10-12 वीं के प्रमाण पत्रों में नाम बदले विश्वविद्यालय किसी भी मार्कशीट में नाम नहीं बदलेगा।


जेंडर बदलने का प्रस्ताव खारिज, रिपोर्ट मांगी

विश्वविद्यालय ने एलएलबी की छात्रा के जेंडर बदलने और मार्कशीट में बदलाव के प्रस्ताव को खारिज कर दिया है। समिति ने कहा कि जो दस्तावेज प्रस्तुत किए गए हैं वे पूरे नहीं हैं। यह मेडिको-लीगल मामला है। सभी प्रक्रिया जांचने के बाद ही इस पर निर्णय हेागा। फिलहाल जेंडर बदलने के प्रस्ताव को समिति ने अस्वीकार कर दिया।


विश्वविद्यालय में केवल ऑनलाइन नहीं, पहले की तरह छपेंगी मार्कशीट

मेरठ। अंतिम सेमेस्टर को छोड़ अन्य सेमेस्टर की मार्कशीट केवल ऑनलाइन देने के फैसले को विश्वविद्यालय ने वापस ले लिया है। विश्वविद्यालय ने दिंसबर 2019 की सेमेस्टर परीक्षाओं से इस व्यवस्था को लागू किया था। इसमें फाइनल सेमेस्टर में ही मार्कशीट प्रिंट करके छात्रों को दी जा रही थी, लेकिन अन्य सेमेस्टर में केवल ऑनलाइन मार्कशीट दी जा रही थी। छात्रों की परेशानी को देखते हुए विश्वविद्यालय ने दिसंबर 2019 की व्यवस्था को खत्म करते हुए पहले की प्रक्रिया बहाल कर दी है। यानी अब पेपर देने वाले हर छात्र को विश्वविद्यालय मार्कशीट प्रिंट करते हुए जारी करेगा।


👉Download Govt Jobs UP Android App