Friday, March 5, 2021

यूपी में 21 वर्षों से नियमित होने की राह देख रहे शिक्षकों को बड़ा तोहफा, इनको दिया जाएगा वेटेज

 यूपी में 21 वर्षों से नियमित होने की राह देख रहे शिक्षकों को बड़ा तोहफा, इनको दिया जाएगा वेटेज




उत्तर प्रदेश के अशासकीय सहायता प्राप्त (एडेड) माध्यमिक स्कूलों में वर्ष 2000 से पूर्व भर्ती 550 तदर्थ शिक्षकों को जल्द विनियमित किया जाएगा। करीब 21 वर्षों से नियमित होने की राह देख रहे इन शिक्षकों को जल्द तोहफा मिलेगा। माध्यमिक शिक्षा विभाग ने इनके विनियमितीकरण का खाका तैयार कर लिया है। दूसरी ओर वर्ष 2000 के बाद आए तदर्थ शिक्षकों को भर्ती परीक्षा में अलग से वेटेज देकर राहत दी जाएगी। 


उत्तर प्रदेश के एडेड माध्यमिक स्कूलों में पढ़ा रहे इन 550 तदर्थ शिक्षकों को राहत देने के लिए सूची तैयार की जा रही है। 22 मार्च, 2016 को बड़ी संख्या में तदर्थ शिक्षकों को विनियमित किया गया था। विधान परिषद सदस्य उमेश द्विवेदी कहते हैं कि एडेड स्कूलों में वर्षों से काम कर रहे इन शिक्षकों को इसलिए विनियमित नहीं किया गया, क्योंकि वे कोर्ट के आदेश पर नौकरी कर रहे थे। अब ज्यादातर शिक्षक खाली पदों के सापेक्ष नौकरी कर रहे हैं। दूसरी तरफ बीते वर्ष सुप्रीम कोर्ट ने तदर्थ शिक्षकों को जुलाई, 2021 से पहले वेटेज देकर स्थाई पदों पर भर्ती करने के निर्देश दिए हैं।

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के प्रदेशीय मंत्री व प्रवक्ता डॉ.आरपी मिश्रा कहते हैं कि पूर्व में विनियमितीकरण से छूट गए 550 शिक्षकों को राहत देना अच्छा कदम है। वहीं वर्ष 2000 के बाद भर्ती तदर्थ शिक्षकों को सम्मानजनक वेटेज देकर जल्द भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाए। ऐसे शिक्षक भी करीब 15 हजार के आसपास हैं। एडेड माध्यमिक स्कूलों में शिक्षकों के करीब 40 हजार पद खाली हैं।


👉Download Govt Jobs UP Android App