Saturday, March 13, 2021

प्रदेश में सरकार से सहायता प्राप्त जूनियर हाई स्कूलों में शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया हुई तेज , शिक्षक भर्ती के लिए दो लाख से ज्यादा रजिस्ट्रेशन, आवेदन करते वक्त इन बातों का रखें ध्यान...

प्रदेश में सरकार से सहायता प्राप्त जूनियर हाई स्कूलों में शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन प्रक्रिया हुई तेज , शिक्षक भर्ती के लिए दो लाख से ज्यादा रजिस्ट्रेशन, आवेदन करते वक्त इन बातों का रखें ध्यान...






उत्तर प्रदेश के 3049 अशासकीय सहायताप्राप्त (एडेड) जूनियर हाईस्कूलों में शिक्षक भर्ती के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया तेज हो गई है। शुक्रवार शाम छह बजे तक करीब दो लाख नौ हजार से अधिक ने पंजीकरण कराया और एक लाख सात हजार से अधिक अभ्यर्थियों ने अंतिम रूप से आवेदन कर दिया है। प्रधानाध्यापक के 390 व सहायक अध्यापक के 1504 सहित 1894 पदों की लिखित परीक्षा 18 अप्रैल को एक साथ कराई जाएगी। अभ्यर्थी 17 मार्च तक आवेदन कर सकते हैं।


कई अभ्यर्थी ऐसे भी हैं जिन्होंने दोनों पदों के लिए पंजीकरण कराया है। ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया पूरी कर प्रिंट लेने की आखिरी तारीख 19 मार्च रखी गई है। परीक्षा संस्था से लगातार यह सवाल पूछा जा रहा है अभ्यर्थी परीक्षा उत्तीर्ण के कॉलम में सत्र का वर्ष लिखें या फिर परीक्षा उत्तीर्ण करने का साल। मसलन, यदि किसी ने डीएलएड 2017 वर्ष का अभ्यर्थी है और उसने परीक्षा 2020 में उत्तीर्ण की है तो उसे कॉलम में वर्ष 2020 ही लिखना है। इसी तरह से एकेडमिक परीक्षा का उत्तीर्ण वर्ष लिखा जाएगा।


आवेदन कर रहे अभ्यर्थी वेबसाइट पर विषयों का विकल्प न मिलने से परेशान हैं। ज्ञात हो कि शासनादेश में कहा गया था कि अभ्यर्थी को भाषा (हिंदी, संस्कृत व अंग्रेजी में से एक), सामाजिक अध्ययन, गणित व विज्ञान विषय में एक का चयन करना होगा। लेकिन, वेबसाइट पर विषयों का विकल्प नहीं है। सचिव अनिल भूषण चतुर्वेदी का कहना है कि ओएमआर पर अभ्यर्थी को विकल्प देना होगा और उसी के आधार पर परिणाम जारी होगा। अभी सिर्फ वही अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं, जो स्नातक उत्तीर्ण हैं। इस भर्ती के लिए भले ही पदों की संख्या कम है लेकिन, करीब चार से पांच लाख आवेदन होने की उम्मीद है।



👉Download Govt Jobs UP Android App