Thursday, February 18, 2021

UPPSC PCS 2019 ::: कई बदलावों की साक्षी बनी परीक्षा , प्री और मेंस परीक्षा में अभ्यर्थियों को सफल घोषित करने का बदला गया था मानक

UPPSC PCS 2019 ::: कई बदलावों की साक्षी बनी परीक्षा , प्री और मेंस परीक्षा में अभ्यर्थियों को सफल घोषित करने का बदला गया था मानक 




उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की पीसीएस 2019 भर्ती दो अहमद बदलावों की साक्षी रही। इसी भर्ती से प्रारंभिक से मुख्य परीक्षा के लिए रिक्त पदों के सापेक्ष 18 से 13 गुना और मुख्य परीक्षा से साक्षात्कार के लिए तीन की बजाय दो गुना अभ्यर्थियों को सफल घोषित करने का नियम लागू किया गया।

उत्तरपुस्तिकाओं की संख्या कम होने के कारण मुख्य परीक्षा का परिणाम सिर्फ तीन महीने में घोषित कर दिया गया। मुख्य परीक्षा 22 से 26 सितंबर तक प्रयागराज, लखनऊ और गाजियाबाद में आयोजित की गई थी। जिसका परिणाम 24 दिसंबर को घोषित हुआ। साक्षात्कार के लिए 811 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया था। कुल रिक्त 453 पदों में से 388 पदों के लिए ही साक्षात्कार आयोजित किए गए क्योंकि 65 पदों के लिए साक्षात्कार का प्रावधान नहीं था।

साक्षात्कार 28 जनवरी से 4 फरवरी तक महज सात कार्यदिवसों में पूरा किया गया। कम समय लगने का सबसे प्रमुख कारण साक्षात्कार में पदों के सापेक्ष दोगुना अभ्यर्थियों को बुलाना था। पूर्व में तीन गुना अभ्यर्थियों को बुलाने के कारण साक्षात्कार में कम से कम दो सप्ताह का समय लगता था। दूसरा बड़ा कारण आयोग में सदस्यों की पर्याप्त संख्या होना रहा। आयोग ने 798 कार्यदिवसों में परिणाम घोषित कर दिया। 

परीक्षा में सम्मिलित विस्तार सेवा अधिकारी श्रेणी 2 की एक, श्रम प्रवर्तन अधिकारी की एक, जिला उद्यान अधिकारी श्रेणी 2 ग्रेड 1 की दो, लेखा एवं सम्प्रेक्षण अधिकारी की 6, विधि अधिकारी लोक निर्माण विभाग की चार, ज्येष्ठ गन्ना विकास निरीक्षक की एक, पशु चिकित्सा एवं कल्याण अधिकारी की दो तथा खाद्य सुरक्षा अधिकारी की दो रिक्तियां योग्य अभ्यर्थी न मिलने के कारण खाली रह गई।

 


👉Download Govt Jobs UP Android App