Wednesday, February 3, 2021

UPPSC 10768 एलटी ग्रेड हिंदी में चयनितो की नियुक्ति का रास्ता साफ़ , आयोग ने फाइल निदेशालय भेजी

UPPSC 10768 एलटी ग्रेड हिंदी में चयनितो की नियुक्ति का रास्ता साफ़ , आयोग ने फाइल निदेशालय भेजी 




एलटी ग्रेड हिंदी विषय में सहायक अध्यापक के पदों पर चयनित अभ्यर्थियों की नियुक्ति का रास्ता साफ हो गया है। उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने मंगलवार को हिंदी विषय में चयनित महिला अभ्यर्थियों की फाइलें भी माध्यमिक शिक्षा निदेशालय को भेज दीं, जबकि पुरुष वर्ग के अभ्यर्थियों की फाइलें एक दिन पहले सोमवार को ही भेजी जा चुकी हैं। 



एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती के तहत हिंदी विषय में सहायक अध्यापक के 1433 पदों पर भर्ती के लिए जुलाई 2018 में परीक्षा आयोजित की गई थी। इनमें पुरुष वर्ग के 696 और महिला वर्ग के 737 पद शामिल हैं। आयोग ने 1432 पदों पर अभ्यर्थियों का चयन किया है। पुरुष वर्ग के 695 और महिला वर्ग के सभी 737 पदों पर चयन हुआ है। तीन माह पूर्व चयनित अभ्यर्थियों के अभिलेखों का सत्यापन भी हो चुका है। लेकिन, फाइलें काफी समय तक आयोग में ही पड़ी रह गईं। सोमवार को अभ्यर्थियों ने जब आयोग में प्रदर्शन किया तो उन्हें बताया गया कि पुरुष वर्ग फाइलें सोमवार को ही भेजी गईं हैं और महिला वर्ग की अभ्यर्थियों की फाइलें भी शीघ्र भेज दी जाएंगी। आयोग के मीडिया प्रभारी पुष्कर श्रीवास्तव ने बताया कि मंगलवार को महिला वर्ग की 543 चयनित अभ्यर्थियों की फाइलें भी माध्यमिक शिक्षा निदेशालय को भेज दी गई हैं।



अब निदेशालय चयनित अभ्यर्थियों की काउंसलिंग कराकर उन्हें विद्यालय आवंटित करेगा और नियुक्ति पत्र जारी करेगा। हालांकि, 194 अभ्यर्थियों की फाइलें विभिन्न कारणों से निदेशालय को नहीं भेजी गईं हैं। सूत्रों का कहना है कि जिन कारणों से फाइलें रोकी गईं हैं, उनमें अर्हता का विवाद भी शामिल है। आयोग ने विज्ञापन में परीक्षा के लिए उन्हीं अभ्यर्थियों को अर्ह माना था, जिनके पास बीएड की उपाधि हो और इंटर में संस्कृत एवं बीए में हिंदी विषय रहा है। बहुत से ऐसे अभ्यर्थी भी परीक्षा में शामिल हो गए थे, जिनके पास इंटर में संस्कृत विषय नहीं था। इनमें से कई अभ्यर्थी चयनित भी हो गए लेकिन अर्हता के विवाद के कारण उनकी फाइलें रोक दी गईं। इसके अलावा कुछ अभ्यर्थियों ने अभिलेखों का सत्यापन नहीं कराया और अगर सत्यापन कराने पहुंचे भी तो कुछ जरूरी दस्तावेज प्रस्तुत नहीं कर सके।
सामाजिक विज्ञान के चयनितों को भी जल्द मिलेगी राहत
सामाजिक विज्ञान के चयनित अभ्यर्थियों की फाइलें भी आयोग ने अब तक माध्यमिक शिक्षा निदेशालय को नहीं भेजी हैं, जबकि अभिलेख सत्यापन की प्रक्रिया को दो माह पूरे हो चुके हैं। एलटी ग्रेड सामाजिक विज्ञान में सहायक अध्यापक के 1854 पद थे, जिनमें से 1851 पदों पर अभ्यर्थियों का चयन हुआ है। आयोग के मीडिया प्रभारी पुष्कर श्रीवास्तव का कहना है कि प्रयास यही है कि सामाजिक विज्ञान के चयनित अभ्यर्थियों की फाइलें भी एक सप्ताह में माध्यमिक शिक्षा निदेशालय को भेज दी जाएं।

 

👉Download Govt Jobs UP Android App