Tuesday, February 23, 2021

JEE MAINS परीक्षा , इस बार कुल 13 स्थानीय भाषाओ में आयोजित की जाएगी परीक्षा

JEE MAINS परीक्षा , इस बार कुल  13 स्थानीय भाषाओ में आयोजित की जाएगी परीक्षा 


देश की सबसे बड़ी इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा ज्वॉइंट इंट्रेंस एग्जाम (जेईई) के पहले चरण का आयोजन मंगलवार से शुरू हो रहा है। 23 से 26 फरवरी के बीच यह परीक्षा दो पालियों में आयोजित होगी।

पिछले सत्र की तरह ही इस बार भी परीक्षा केंद्रों पर कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए बेहतर व्यवस्था के निर्देश दिए गए हैं। अभी तक विद्यार्थियों को हिंदी, अंग्रेजी व गुजराती भाषा में पेपर उपलब्ध होता था।

किंतु अब अन्य क्षेत्रीय भाषाओं उड़िया, मराठी, उर्दू, तमिल, असमिया, बंगाली, कन्नड़, मलयालम, पंजाबी आदि का भी विकल्प इस बार विद्यार्थियों को मिलेगा।
परीक्षा पहली पाली में सुबह 9 से 12 बजे तक और दूसरी पाली दोपहर 3 से शाम 6 बजे तक आयोजित होगी। राजधानी में ऑनलाइन परीक्षा के लिए लगभग एक दर्जन केंद्र बनाए गए हैं।
इस बार विद्यार्थियों की सहूलियत के लिए सवालों के विकल्प की संख्या 75 से बढ़ाकर 90 कर दी गई है। जिसमें से विद्यार्थियों को 75 सवाल ही हल करने होंगे।
लेकिन उनको विकल्प चुनने का अवसर दूसरे पेपर में ही मिलेगा। पहले पेपर के सभी 60 सवाल उन्हें हल करने होंगे। जबकि दूसरे पेपर के 30 में वह 15 सवाल हल कर सकेंगे।
पिछली बार की तरह इस बार भी परीक्षा केंद्र पर विद्यार्थियों को स्लॉट के अनुसार बुलाया गया है। विद्यार्थियों की फिजिकल चेकिंग नहीं होगी। सेंटर का हर पाली के बाद सैनिटाइजेशन करना होगा।
विद्यार्थी अपना खुद का मास्क पहनकर और सैनिटाइजर व ट्रांसपैरेंट पानी की बोतल लेकर आएंगे। विद्यार्थी अपने साथ आधार कार्ड या कोई अन्य आईडी प्रूफ, कोविड सेल्फ डिक्लेरेशन फार्म भरकर लाएंगे।
विद्यार्थियों को मोटे सोल वाले जूते और बड़े बटन वाले कपड़े न पहनने का सुझाव दिया गया है। परीक्षा केंद्र में एक-एक सीट का गैप करके ही विद्यार्थियों को बैठाया जाएगा।
विद्यार्थियों को निर्धारित समय से थोड़ा पहले ही केंद्र पहुंचने के लिए कहा गया है। क्योंकि एक बार इंट्री बंद होने के बाद प्रवेश नहीं मिलेगा।


 

👉Download Govt Jobs UP Android App