Monday, February 1, 2021

CBSE CTET 2021: केद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के 14वें संस्करण में पेपर-1 और पेपर-2 में 23 लाख अभ्यर्थियों ने दी परीक्षा

 CBSE CTET 2021: केद्रीय शिक्षक पात्रता परीक्षा के 14वें संस्करण में पेपर-1 और पेपर-2 में 23 लाख अभ्यर्थियों ने दी परीक्षा




केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की ओर से 14वें संस्करण की केंद्रीय अध्यापक पात्रता परीक्षा (CTET) का आयोजन देशभर के 135 शहरों के 3938 परीक्षा केंद्रों किया गया। सीबीएसई के सचिव और निदेशक (सीटीईटी) अनुराग त्रिपाठी की ओर से मिली सूचना के अनुसार, परीक्षा के सुचारू और निष्पक्ष संचालन के लिए कुल 146 शहर समन्वयकों, 3938 केंद्र अधीक्षकों, 5900 प्रेक्षकों और 789 सीबीएसई अधिकारियों/कर्मचारियों की तैनाती की गई थी। 14वीं सीटीईटी में भाग लेने वाले अभ्यर्थियों का विवरण आगे देख सकते हैं-

कुल पंजीकृत अभ्यर्थी: 1844170
प्रश्नपत्र-1 के लिए अभ्यर्थी
( कक्षा 1 से 5 तक)- 1611423
प्रश्नपत्र-2 के लिए अभ्यर्थी 
(कक्षा 6  से 8 तक) - 1447551
दोनों प्रश्नपत्रों के लिए अभ्यर्थी (प्रश्नपत्र- 1 और प्रश्नपत्र -2) - 3058974

उपस्थित अभ्यर्थी: करीब 23 लाख
प्रश्नपत्र-1 के लिए अभ्यर्थी - 1219220
प्रश्नपत्र-2 के लिए अभ्यर्थी - 1077842
दोनों प्रश्नपत्रों के लिए अभ्यर्थी - 2297062

सीटीईटी परीक्षा में दो प्रश्नपत्र होते हैं। सीटीईटी का प्रश्नपत्र – 1,  कक्षा 1 से 5 के शिक्षकों की पात्रता के लिए, जबकि प्रश्नपत्र – 2, कक्षा 6 से 8 के शिक्षकों की पात्रता सुनिश्चित करने के लिए है। निर्धारित योग्यता को पूर्ण करने वाले अभ्यर्थी एक या दोनों प्रश्नपत्र में परीक्षा दे सकते हैं और 20 निर्धारित भाषाओं में से किन्हीं दो भाषाओं को चुन सकते हैं।

सीबीएसई के अनुसार, सीटीईटी के 14वें संस्करण का आयोजन कोविड महामारी के प्रभाव को दृष्टिगत रखते हुए किया गया। भारत सरकार द्वारा जारी किए गए निर्देशों का अनुपालन देशभर के परीक्षा केन्द्रों पर सुनिश्चित किया गया। कोविड-19 की गाइडलाइन्स को सभी अभ्यर्थियों को पहले ही सूचित कर दिया गया था। सोशल डिस्टेंसिंग और अन्य कोविड-19 सुरक्षा उपायों को बनाए रखने के लिए 23 अतिरिक्त शहरों में परीक्षा केन्द्रों की व्यवस्था की गई और शहरों की संख्या 112 से बढ़ाकर 135 की गई थी। अभ्यर्थियों को असुविधा से बचाने के लिए बोर्ड द्वारा शहर में परिवर्तन की सुविधा दी गई तथा उनके चुने हुए शहरों में ही उन्हें परीक्षा केन्द्र आवंटित करने का हर संभव प्रयास किया गया।

डिजिलॉकर से ले सकेंगे अंक-पत्र व प्रमाण पत्र:
सीटीईटी के अभ्यर्थियों की सुविधा के लिए बोर्ड ने डिजिटल अंक पत्र और पात्रता प्रमाण पत्र डिजिलॉकर के माध्यम से उपलब्ध कराने की व्यवस्था की है जो ‘हरित पहल’ की तरफ बोर्ड का एक संकल्प भी है। 

अभ्यर्थी दी गई लॉगइन आईडी क्रेडेंशियल्स का उपयोग करके अभ्यर्थी अपने डिजिटल अंक-पत्र और पात्रता प्रमाण-पत्र डाउनलोड कर सकेंगे। इस प्रकार के डिजिटल प्रारूप में अंक पत्र और पात्रता प्रमाण पत्र सभी के लिए सुविधाजनक है क्योंकि वह कभी भी कहीं भी इलेक्ट्रॉनिक रूप से साझा किए जा सकते हैं। सुरक्षा की दृष्टि से अंक पत्र और प्रमाण पत्र में एक एन्क्रिप्टेड क्यूआर कोड होता है जिसे डिजिलॉकर मोबाइल ऐप का उपयोग करके क्यूआर कोड को स्कैन और सत्यापित किया जा सकता है।