Sunday, February 14, 2021

यूपी : अब कंडक्टर भर्ती के लिए कंप्यूटर का ज्ञान जरूरी, मृतक आश्रित भी आएंगे दायरे में

 यूपी : अब कंडक्टर भर्ती के लिए कंप्यूटर का ज्ञान जरूरी, मृतक आश्रित भी आएंगे दायरे में




रोडवेज में बस कंडक्टर बनने के लिए अब कंप्यूटर का ज्ञान होना जरूरी होगा। तभी उप्र राज्य सड़क परिवहन निगम में परिचालक के पद पर भर्ती हो सकेंगे। यही नहीं मृतक आश्रितों को भी इस दायरे में रखा गया है। जहां संविदा हो या सीधी भर्ती अथवा मृतक आश्रित सभी के लिए ट्रिपल सी प्रमाण पत्र को अनिवार्य कर दिया गया है।

अभी तक परिवहन निगम में संविदा और नियमित भर्ती में इंटर पास अथवा आईटीआई डिप्लोमा करने वाले नियुक्ति होते थे। दिसंबर 2020 में बोर्ड ने बस परिचालक भर्ती की अर्हता में बदलाव करने का निर्णय लिया है। इस संबंध में प्रदेश भर के क्षेत्रीय प्रबंधक को दिशा निर्देश भेजे गए है। क्योंकि अत्याधुनिक हैंडहेल्ड डिवाइस के जरिए यात्रियों के टिकट काटे जाएंगे। जोकि निगम मुख्यालय के सर्वर से लिंक होगा। ऐसे में इस इलेक्ट्रिक टिकटिंग मशीन को चलाने के लिए कंप्यूटर की जानकारी जरूरी होगी।

जल्द होगी भर्ती, शुरू करें तैयारी
परिवहन निगम के प्रधान प्रबंधक (कार्मिक) डीवी सिंह बताते है कि डेढ़ हजार बस कंडक्टरों की सीधी भर्ती का प्रस्ताव भेजा गया है। जहां मंजूरी मिलते ही भर्ती प्रक्रिया शुरू होगी। ऐसे में कंप्यूटर ज्ञान का सीसीसी प्रमाण पत्र के लिए तैयारी अभी से शुरू कर दें। वहीं 486 मृतक आश्रितों को भी ट्रिपल सी प्रमाण पत्र होने पर भर्ती करेंगे।