Tuesday, January 12, 2021

UP: योगीराज में बेरोजगार के चेहरों पर लौटी खुशी, अब तक 24.30 लाख युवाओं को मिला रोजगार , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट

 UP: योगीराज में बेरोजगार के चेहरों पर लौटी खुशी, अब तक 24.30 लाख युवाओं को मिला रोजगार , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट 




मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने बीते सितंबर में राज्य में युवाओं को रोजगार मुहैया कराने को लेकर एक बड़ा लक्ष्य तय किया था. यह लक्ष्य था राज्य के बेरोजगार युवाओं को नौकरी देना और उन्हें स्वरोजगार का अवसर प्रदान करना. इसके लिए मुख्यमंत्री ने मिशन रोजगार अभियान की शुरुआत की. सूबे की नौकरशाही ने मिशन रोजगार को गंभीरता से लिए और देखते -देखते इस 5 दिसंबर से शुरू हुए मिशन अभियान के चलते 7 जनवरी तक 24.30 लाख श्रमिकों और बेरोजगार अभ्यर्थियों को रोजगार और स्वरोजगार मुहैया कराया गया है. सरकार के इस प्रयास से लाखों बेरोजगारों के जीवन से उदासी का खात्मा हुआ है.

यह पहला मौका है, जब राज्य में एक अभियान के तहत इतनी बड़ी संख्या में श्रमिकों तथा युवा बेरोजगार अभ्यर्थियों को रोजगार तथा स्वरोजगार मिला है. यहीं नहीं मिशन रोजगार अभियान के तहत 35.35 करोड़ मानव दिवस सृजित किए गए. सरकार के इस अभियान के चलते जिन 24.30 लाख श्रमिकों और बेरोजगार अभ्यर्थियों को स्वरोजगार मुहैया हुआ है, उनके जीवन में बदलाव हुआ है. अभी यह अभियान चल रहा है और सरकारी विभागों में रिक्त पदों पर भी मुख्यमंत्री ने भर्ती प्रक्रिया शुरू करने के निर्देश दिए हैं.

एक सरकारी अनुमान के अनुसार, यूपी के सभी विभागों में कुल मिलाकर पांच लाख के करीब पद खाली हैं जिन्हें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश के तहत भरा जाना है. इन रिक्त पदों को भरने के लिए तमाम विभागों में अब तेजी से कार्य किया जा रहा है और अधिकारियों का प्रयास है कि सरकार की मंशा के मुताबिक़ जल्द से जल्द युवाओं को रिक्त पदों पर नौकरी देने की प्रक्रिया शुरू हो.
इसके साथ ही राज्य की नौकरशाही मिशन रोजगार के तहत श्रमिक और बेरोजगार अभ्यर्थियों को रोजगार तथा स्वरोजगार मुहैया कराने को महत्व दे रही है. जिसके तहत अब तक 69,691 युवाओं की नियमित भर्ती की गई है. आउटसोर्सिंग के जरिये 2,259 तथा संविदा के तहत 36,868 बेरोजगारों को नौकरी दी गई. मिशन रोजगार अभियान के आंकड़ों के अनुसार 4,57,628 बेरोजगार युवाओं को स्वत: रोजगार करने के लिए मदद की गई.

 निजी क्षेत्र में युवाओं को मिला रोजगार 

यहीं नहीं रोजगार करने के इच्छुक 59,728 युवाओं को कौशल प्रशिक्षण के लिए चयनित किया गया. मिशन रोजगार के तहत ही अब तक निजी क्षेत्र में 17,57,489 युवाओं को रोजगार मुहैया कराया गया. कुल मिलाकर बीती पांच दिसंबर से शुरू हुए मिशन रोजगार के तहत अब तक 24,30,793 श्रमिकों, बेरोजगार अभ्यर्थियों को रोजगार और स्वरोजगार मुहैया कराया गया.