Thursday, December 3, 2020

UP 69000 Shikshak Bharti: प्रभारी मंत्री के हाथों नियुक्ति पत्र पाएंगे गोरखपुर-बस्ती मंडल के पांच-पांच अभ्यर्थी , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट

 UP 69000 Shikshak Bharti: प्रभारी मंत्री के हाथों नियुक्ति पत्र पाएंगे गोरखपुर-बस्ती मंडल के पांच-पांच अभ्यर्थी  , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट 





69 हजार शिक्षक भर्ती के तहत दूसरे चरण में 37 हजार शिक्षकों की भर्ती प्रक्रिया के तहत हर जिले में बुधवार से काउंसलिंग शुरू हो गई है। चार दिसंबर को काउंसलिंग समाप्त होने के बाद पांच दिसंबर को प्रभारी मंत्री नवनियुक्त शिक्षकों में नियुक्ति पत्र वितरण करेंगे। पहले तय हुआ था कि सीएम योगी आदित्‍यनाथ इस कार्यक्रम में रहेंगे लेकिन परिवर्तित कार्यक्रम के मुताबिक प्रभारी मंत्री एनेक्‍सी भवन में गोरखपुर-बस्‍ती मंडल के पांच-पांच अभ्‍यर्थियों को नियुक्ति पत्र देंगे। 

कल सीएम के कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने के बेसिक शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. सतीश द्विवेदी ने जिले का दौरा किया था। इस दौरान उन्होंने अधिकारियों से कहा कि पांच दिसंबर को गोरखपुर-बस्ती मंडल के जिलों के सर्वाधिक अंक पाने वाले पांच-पांच अभ्यर्थियों को मुख्यमंत्री नियुक्ति पत्र देंगे। इसके लिए अलग से व्यवस्था कर ली जाय। मंडल के अभ्यर्थियों को बुलाने के लिए संबंधित जिले के अधिकारियों से बात करते हुए तैयारी कर लें। उन्होंने कहा कि सीएम के नियुक्ति पत्र वितरण कार्यक्रम का शुभारंभ करने के बाद प्रदेश के हर जिले में प्रभारी मंत्री, विधायकों, सांसदों के द्वारा अभ्यर्थियों में नियुक्ति पत्र दिय जाएगा। 

निरीक्षण के दौरान मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि टॉप पांच अभ्यर्थियों के अलावा गोरखपुर जिले के सभी 647 अभ्यर्थियों को भी नियुक्ति पत्र दिया जाएगा। कोविड-19 को देखते हुए इसकी व्यवस्था सही ढंग से कर ली जाय। जिससे की अफरातफरी न हो। साथ ही उन अभ्यर्थियों के लंच पैकेट की भी व्यवस्था हो। निरीक्षण के अंत में शिक्षामंत्री ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि पहले चरण में 16 अक्तूबर को 31227 शिक्षकों की नियुक्ति कर दी गयी है। सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर शेष बचे 37 हजार सहायक अध्यापकों की भर्ती प्रक्रिया के तहत काउंसलिंग की प्रक्रिया चल रही है। अभ्यर्थियों के प्रमाण पत्रों की जांच प्रक्रिया भी चल रही है। पिछली बार भी मुख्यमंत्री ने लखनऊ में टॉपरों को नियुक्ति पत्र दिया था। इस बार यह कार्यक्रम गोरखपुर विश्वविद्यालय में रखा गया है। जहां पांच दिसंबर को मुख्यमंत्री गोरखपुर-बस्ती मंडल के जिलों के पांच-पांच टॉपरों को नियुक्ति पत्र वितरित करेंगे। इस तरह से सरकार द्वारा 69 हजार शिक्षक भर्ती की प्रक्रिया समाप्त होगी। 

योगी सरकार में परिषदीय स्कूलों की व्यवस्था सुधरी
बेसिक शिक्षामंत्री ने कहा कि यूपी में जबसे योगी की सरकार बनी है। तब से परिषदीय स्कूलों की व्यवस्था सही हुई है। बच्चों में दो जोड़ी रंगीन ड्रेस, जूते-मोजे, बैग, स्वेटर समेत अन्य सुविधाए समय से मुहैया कराए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन के दौरान स्कूल बंद होने के बाद भी परिषदीय स्कूल के बच्चों को एमडीएम का धन उनके खातों में पहुंचाया गया। इसके अन्य सभी सुविधाए छात्रों के घरों तक पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि इसका मतलब तब तक नहीं निकलेगा जब तक विद्यालयों को गुणवत्ता पूर्ण शिक्षक नहीं मिलेंगे। इसके लिए समय-समय पर शिक्षकों ट्रेनिंग दी जा रही है। जिससे की वह विद्यालय जाकर बच्चों को अच्छी और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा दे।