Sunday, December 6, 2020

बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षकों की ड्यूटी बीएलओ के कार्य में लगाने के फैसले पर कोर्ट ने दिया विभाग और सरकार को पुर्नविचार करने के निर्देश , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट

बेसिक शिक्षा विभाग के शिक्षकों की ड्यूटी बीएलओ के कार्य में लगाने के फैसले पर कोर्ट ने दिया विभाग और सरकार को पुर्नविचार करने के निर्देश , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट 



इलाहाबाद हाईकोर्ट ने प्राथमिक विद्यालयों के शिक्षकों की स्थानीय चुनाव में बीएलओ ड्यूटी लगाए जाने के मामले में एसडीएम कासगंज को दो माह में नए सिरे से विचार कर निर्णय लेने के लिए कहा है। समिता महेश्वरी और कई अन्य की याचिका पर न्यायमूर्ति यशवंत वर्मा ने सुनवाई की। 
याचीगण के अधिवक्ता अग्निहोत्री कुमार त्रिपाठी का कहना था कि एसडीएम कासगंज ने याची गण की स्थानीय चुनाव में बूथ लेबर आफिसर के तौर पर ड्यूटी लगा दी है जबकि हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश प्रादेशिक शिक्षक संघ बांदा बनाम उत्तर प्रदेश राज्य के मामले में कहा है कि प्राथमिक शिक्षकों की बीएलओ ड्यूटी नहीं लगाई जा सकती है।
ऐसा करना शिक्षा का अधिकार अधिनियम के का उल्घंन है। सरकारी वकील का कहना था कि एसडीएम उपरोक्त निर्णय के आलोक में अपने आदेश में दो माह में पुनर्विचार कर निर्णय लेंगे। सरकारी वकील के इस बयान के बाद कोर्ट ने याचिका निस्तारित कर दी है।


 


👉Download Govt Jobs UP Android App

 

👉Join Govt Jobs UP Telegram Channel

 

👉Subscribe Govt Jobs UP YouTube Channel