Tuesday, November 3, 2020

.टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 03 नवंबर 2020 , क्लिक करे और पढ़े

 .टॉप हिन्दी करेंट अफ़ेयर्स: 03 नवंबर 2020 , क्लिक करे और पढ़े 





शेन वॉटसन ने क्रिकेट के सभी प्रारूपों से लिया संन्यास, अब आईपीएल में भी नहीं दिखेंगे

इंटरनेशनल क्रिकेट से पहले ही संन्यास ले चुके शेन वॉटसन कई देशों में फ्रैंचाइजी क्रिकेट खेल रहे थे. आइपीएल के इस सत्र में वाटसन 11 मैचों में सिर्फ 299 रन ही बना सके. शेन वॉटसन इंटरनेशनल क्रिकेट से पहले ही संन्यास ले चुके हैं. शेन वॉटसन ऑस्ट्रेलिया के सबसे शानदार ऑराउंडरों में से एक रहे हैं.


वॉटसन ने अपना आखिरी आईपीएल मुकाबला कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ 29 अक्टूबर को खेला था. वॉटसन चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) के अलावा राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए भी खेल चुके हैं. चेन्नई ने उन्हें 2018 में बोली लगाकर अपनी टीम में किया था.


BCCI ने Jio को बनाया महिला T-20 चैलेंज का टाइटल स्पोंसर

BCCI द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, गांगुली ने यह कहा है कि, हमें उम्मीद है कि, महिलाओं का यह टी -20 चैलेंज मैच देश की और ज्यादा युवा लड़कियों को इस खेल को एक पेशे के रूप में अपनाने के लिए प्रेरित करेगा और माता-पिता को यह विश्वास दिलाएगा कि, क्रिकेट उनकी बेटियों के लिए एक शानदार करियर अवसर है.


रिलायंस फाउंडेशन की संस्थापक और चेयरपर्सन, नीता अंबानी ने इस खबर पर टिप्पणी करते हुए यह कहा है कि, कंपनी का उद्देश्य महिलाओं के टी - 20 चैलेंज के खिलाड़ियों को सर्वश्रेष्ठ प्रशिक्षण, बुनियादी सुविधाओं, पुनर्वास सुविधाओं की पेशकश सुनिश्चित करना है.


वायलिन वादक और पद्म पुरस्कार से सम्मानित टीएन कृष्णन का निधन

कृष्णन बचपन से ही विलक्षण प्रतिभा के धनी थे. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कृष्णन के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनके निधन के कारण संगीत की दुनिया में एक बहुत बड़ा स्थान रिक्त हो गया है. उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा कि प्रख्यात वायलिन वादक टीएन कृष्णन के निधन से संगीत जगत में एक बहुत बड़ा खालीपन आ गया है.


टीएन कृष्णन का जन्म साल1928 में केरल के त्रिप्पुनितुरा में हुआ था. उनके पिता का नाम ए. नारायण अय्यर और मां अम्मिनी अम्माल थीं. कृष्णन को संगीत की शुरुआती शिक्षा उन्हें अपने पिता ए नारायण अय्यर से मिली. उन्होंने तिरुवनंतपुरम में 11 साल की उम्र में 1939 अपना पहला कॉन्सर्ट में दिया था.


केंद्र सरकार ने वायु गुणवत्ता सुधारने हेतु 15 राज्यों को जारी किए 2,200 करोड़ रुपये

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के कार्यालय ने ट्वीट किया कि सरकार ने 15वें वित्त आयोग की सिफारिशों के अनुरूप 15 राज्यों को उनके 10 लाख से ज्यादा आबादी वाले शहरों में वायु गुणवत्ता सुधारने की दिशा में काम करने के लिए 2,200 करोड़ रुपये की पहली किस्त जारी की है.


वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के कार्यालय के मुताबिक, सरकार ने 15 राज्यों को उनके 10 लाख से ज़्यादा आबादी वाले शहरों में वायु गुणवत्ता सुधारने के लिए 2,200 करोड़ रुपये की पहली किस्त जारी की है. इन राज्यों के 42 बड़े शहरों में सर्वाधिक सात शहर उत्तर प्रदेश के हैं.



Click Here & Download Govt Jobs UP Official Android App