Friday, October 2, 2020

फर्जीवाड़ा :: 69000 शिक्षक भर्ती में सरगना के दो मददगार हुए गिरफ्तार , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

फर्जीवाड़ा :: 69000 शिक्षक भर्ती में सरगना के दो मददगार हुए गिरफ्तार , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 



69 हजार शिक्षक भर्ती परीक्षा धांधली मामले की विवेचना में जुटी एसटीएफ ने गिरोह के दो अन्य सदस्यों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गए संदीप पटेल व दुर्गेश सिंह सरगना केएल पटेल के बेहद करीबी हैं और वह उसे कमीशन लेकर अभ्यर्थी  उपलब्ध कराते थे। दोनों के कब्जे से चार मोबाइल के अलावा एक चारपहिया वाहन भी बरामद किया गया है। 
एएसपी नीरज पांडेय के नेतृत्व में विवेचना में जुटी एसटीएफ स्थानीय इकाई के केसी राय व उनकी टीम ने मलाक हरहर तिराहा, फाफामऊ से दोनों को गिरफ्तार किया। एसटीएफ अफसरों के मुताबिक, पूछताछ में दोनों ने बताया कि संदीप पुत्र ओंकारनाथ पटेल निवासी बहरिया अतनपुर  और दुर्गेश पुत्र तेजबहादुर सिंह बछान, अंतू प्रतापगढ़ का रहने वाला है। दोनों गिरेाह के सक्रिय सदस्य और सरगना केएल पटेल के लिए काम करते थे।
वह पिछले दो-तीन सालों से उससे जुड़े थे और सात लाख रुपये में परीक्षा पास कराने की बात कहकर अभ्यर्थियों को सरगना से मिलवाते थे। इसके एवज में उन्हें कमीशन मिलता था। गिरेाह के अन्य सदस्यों के पकड़े जाने के बाद से ही वह इधर-उधर छिपते फिर रहे थे। एसटीएफ अफसरों ने बताया कि उनके कब्जे से केस डायरी की एक प्रति भी प्राप्त हुई है जो संभवत: उन्हें वकील के माध्यम से मिली होगी। 
एमबीए कर चुका है संदीप
अफसरों के मुताबिक, पकड़ा गया संदीप यूपीटीयू से एमबीए कर चुका है जबकि दुर्गेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की भर्तियों की तैयारी करता है। दोनों ने यह भी बताया कि खुद के चयन के लिए ही वह केएल पटेल के संपर्क में आए थे और उसे इसके लिए रुपये भी दिए। बाद में वह धीरे-धीरे उसके लिए काम करने लगे और उसे अभ्यर्थी उपलब्ध कराने लगे। 
दो अग्रिम जमानत पर, चार की तलाश जारी
दो अन्य की गिरफ्तारी के बाद एसटीएफ अब इस मामले में वांछित चार आरोपियों की तलाश में जुटी है। इनमें नकल माफिया चंद्रमा यादव के अलावा शिवदीप, सत्यम व शैलेष शामिल हैं। बता दें कि दो आरोपियों मायापति दुबे व अरविंद पटेल को अग्रिम जमानत मिल चुकी है। मामले में अब तक कुल 14 आरोपी जेल भेजे जा चुके हैं जिनमें से तीन खुद शिक्षक भर्ती परीक्षा में अभ्यर्थी थे। 
सोरांव पुलिस ने 11, एसटीएफ ने तीन को भेजा जेल
शिक्षक भर्ती धांधली मामले में आठ लोगों पर नामजद रिपोर्ट दर्ज की गई। बाद में तीन अन्य के नाम विवेचना में सामने आए। जिसमें से सरगना समेत कुल 11 आरेापियों को सोरांव पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा। इसके बाद विवेचना स्थानांतरित होने के बाद से अब तक एसटीएफ तीन आरोपियों को जेल भेज चुकी है।

 

Click Here & Download Govt Jobs UP Official Android App