Monday, September 14, 2020

UPPSC भर्ती घोटाला ::: सीबीआई टीम लौटी , कई पूर्व अफसर दिल्ली तलब किये गए , आयोग के दस से अधिक कर्मचारियों को नोटिस जारी , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट

UPPSC भर्ती घोटाला ::: सीबीआई  टीम लौटी , कई पूर्व अफसर दिल्ली तलब किये गए , आयोग के दस से अधिक कर्मचारियों को नोटिस जारी , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट 





एक सप्ताह तक प्रयागराज में सक्रिय रही सीबीआई की टीम शनिवार देर रात दिल्ली लौट गई। सीबीआई ने आयोग के कुछ पूर्व सचिवों और पूर्व परीक्षा नियंत्रकों को दिल्ली स्थित मुख्यालय तलब किया है। इसके साथ उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग के दस से अधिकारी कर्मचारियों को नोटिस देकर दिल्ली बुलाया है। सीबीआई की टीम एपीएस-2010 परीक्षा के मामले में मुकदमा दर्ज करने की तैयारी में है।
सीबीआई की टीम यहां तकरीबन एक हफ्ते तक रही। इस दौरान सीबीआई ने गोविंदपुर स्थित अपने कैंप कार्यालय में एक पूर्व परीक्षा नियंत्रक से चार दिनों तक पूछताछ की। इस दौरान पीसीएस-2015 बैच के एक एसडीएम समेत कई अन्य चयनित अभ्यर्थियों से भी पूछताछ की और आयोग जाकर भी सीबीआई की टीम ने वहां कई कर्मचारियों से पूछताछ की। सीबीआई को पीसीएस-2015 और अपर निजी सचिव (एपीएस)-2010 की परीक्षा में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी मिली है। ऐसे में सीबीआई इन दोनों परीक्षाओं से जुड़े आयोग के पूर्व अफसरों और कर्मचारियों पर अपना शिकंजा कसती जा रही है। इसके अलावा सीबीआई ने पीसीएस-2013 एवं 2014 और आरओ/एआरओ-2013 एवं 2014 की परीक्षाओं में भी धांधली की शिकायत मिलने पर जांच तेज की है। 
सूत्रों का कहना है कि सीबीआई ने आयोग के दो पूर्व परीक्षा नियंत्रकों और दो पूर्व सचिवों को दिल्ली स्थित मुख्यालय तलब कर लिया है। इन चारों पूर्व अफसरों को नोटिस जारी किया गया है। इसके साथ ही आयोग के दस से अधिक कर्मचारियों को नोटिस जारी कर दिल्ली तलब किया गया है। इसके अलावा एपीएस-2010 से जुड़े तकरीबन 20 चयनित अभ्यर्थियों को भी नोटिस देकर दिल्ली स्थित मुख्यालय बुलाया गया है। दिल्ली में पीसीएस-2015 के कुछ चयनित अभ्यर्थियों से पूछताछ भी की जाएगी। सूत्रों का कहना है कि सीबीआई एपीएस-2010 की परीक्षा में हुई धांधलंी के मामले में जल्द ही एफआईआर दर्ज कर सकती है। साथ ही पीसीएस-2015 के मामले में सीबीआई ने आयोग के जिन अज्ञात अफसरों और बाहरी अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था, उनके खिलाफ अब सीधी कार्रवाई की जा सकती है।
अभ्यर्थियों को उम्मीद, इस बार होगी बड़ी कार्रवाई
उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षाओं में शामिल होने वाले अभ्यर्थियों को उम्मीद है कि परीक्षाओं में धांधली के मामले में सीबीआई इस बार बड़ी कार्रवाई करेगी। इस बार तमाम अभ्यर्थी अपनी शिकायत दर्ज कराने सीबीआई के गोविंदपुर स्थित कैंप कार्यालय भी गए थे और सीबीआई ने उन्हें आश्वासन दिया कि जल्द ही दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। वहीं, प्रतियोगी छात्र संघर्ष समिति के मीडिया प्रभारी अवनीश पांडेय का कहना है कि हमेशा की तरह इस बार भी सीबीआई की टीम आई और लौट गई। सीबीआई जांच शुरू हुए ढाई साल से अधिक समय बीत चुका है, लेकिन अब तक किसी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की गई। सीबीआई की कार्रवाई सिर्फ पूछताछ तक ही सीमित है।