Thursday, September 17, 2020

UPPSC RO/ARO 2016 : समीक्षा अधिकारी मुख्य परीक्षा में बड़ी राहत, 18 गुना अभ्यर्थी होंगे उत्तीर्ण , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

 UPPSC RO/ARO 2016 : समीक्षा अधिकारी मुख्य परीक्षा में बड़ी राहत, 18 गुना अभ्यर्थी होंगे उत्तीर्ण , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 






समीक्षा अधिकारी-सहायक समीक्षा अधिकारी (आरओ-एआरओ) 2016 की मुख्य परीक्षा के लिए उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने बड़ी राहत दी है। यूपीपीएससी ने स्पष्ट किया है कि पीसीएस की तर्ज पर कुल पदों के सापेक्ष 13 गुना अभ्यर्थी मेंस के लिए सफल नहीं होंगे, बल्कि उनकी तादाद 18 गुना होगी। नियमों में बदलाव से अभ्यर्थियों में गुस्सा रहा है। गुरुवार को यूपीपीएससी के सचिव जगदीश ने बताया कि विज्ञापन में मेंस के लिए 18 गुना अभ्यर्थियों को पास करने की बात कही गई है। इसमें किसी प्रकार का बदलाव नहीं किया गया है। कहा कि अभ्यर्थी किसी के बहकावे में आए बिना परीक्षा की तैयारी करें।

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने आरओ/एआरओ-2016 के तहत 361 पदों की भर्ती निकाली थी। विज्ञापन में पद के सापेक्ष मेंस के लिए 18 गुना अभ्यर्थियों को पास करने की बात कही गई थी। लेकिन, इधर अभ्यर्थियों को सूचना मिली कि पीसीएस परीक्षा की तर्ज पर 18 की जगह 13 गुना अभ्यर्थी प्रारंभिक परीक्षा में पास किए जाएंगे। इसका अभ्यर्थियों ने विरोध शुरू कर दिया। अभ्यर्थियों ने काली शर्ट, टी-शर्ट, मास्क लगाने के साथ बांह में काली पट्टी बांधकर परीक्षा में शामिल होने का निर्णय लिया। सोशल मीडिया में उसका अभियान चलाया जा रहा है। इसे देखते हुए आयोग ने अभ्यर्थियों का भ्रम दूर करने का प्रयास किया है।


माइनस मार्किंग पर स्थिति बरकरार : उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने आरओ/एआरओ-2016 की मुख्य परीक्षा में 18 गुना अभ्यर्थी उत्तीर्ण करने का ऐलान कर दिया है लेकिन, परीक्षा में माइनस मार्किंग की स्थिति अभी बरकरार है। ज्ञात हो कि विज्ञापन में माइनस मार्किंग लागू करने का प्राविधान नहीं रहा है। हालांकि अब यह नियम प्रभावी है। 

परीक्षा से पहले हुए बदलाव से नाराज थे अभ्यर्थी : आरओ-एआरओ-2016 की परीक्षा से पहले नियमों में बदलाव से अभ्यर्थी नाराज थे। प्रदेश सरकार व आयोग के खिलाफ विरोध दर्ज कराने के लिए अभ्यर्थियों ने 20 सितंबर को प्रस्तावित प्रारंभिक परीक्षा में काला कपड़ा पहनकर शामिल होने का निर्णय लिया था। अभ्यर्थी काली शर्ट, टी-शर्ट, मास्क लगाने के साथ बांह में काली पट्टी बांधकर परीक्षा में शामिल होंगे। इसके लिए सोशल मीडिया में अभियान चलाया जा रहा है। अभियान को अभ्यर्थियों का व्यापक समर्थन मिल रहा है।