Tuesday, September 15, 2020

NEET Cut off 2020 : नीट कटऑफ 600 होने की उम्मीद, क्लिक करे और जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

NEET Cut off 2020 : नीट कटऑफ 600 होने की उम्मीद, क्लिक करे और जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स




 देशभर के मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के लिए रविवार को राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा कम प्रवेश परीक्षा ( नीट ) आयोजित हुई। कोरोना काल में इस परीक्षा को लेकर काफी विवाद हुआ था। हालांकि देशभर में शांतिपूर्ण तरीके से परीक्षा संपन्न हो गई। परीक्षआ में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया गया। छात्रों को मास्क, सेनेटाइजर के साथ ही प्रवेश दिया गया। परीक्षा केन्द्रों पर प्रवेश से लेकर निकलने तक, जांच व वेरिफिकेशन की सभी प्रक्रियाएं पूरी की जा रही थी। एडमिट कार्ड के साथ डिक्लेरेशन फॉर्म दिखाने के बाद ही सेंटर पर प्रवेश मिल रहा था। नीट की परीक्षा देकर लौटे छात्रों की मानें तो पेपर ठीक था। हालांकि फिजिक्स के कुछ प्रश्न ज्यादा परेशान करने वाले थे। खासकर न्यूमेरिकल का हिस्सा। बॉयोलॉजी का पेपर स्कोरिंग वाला रहा। ज्यादातर सवाल एनसीईआरटी से पूछे गए थे। इसमें कुछ प्रश्न-इधर-उधर से थे। केमेस्ट्री में ऑग्रेनिक के कुछ प्रश्न परेशान करने वाले थे। अभ्यर्थियों को तीन घंटे में 180 प्रश्नों का जवाब देना था। प्रत्येक सही जवाब के लिए परीक्षार्थियों को चार अंक तय किये थे। वहीं, गलत जवाब के लिए एक अंक काट लिया जाएगा। फिजिक्स और केमिस्ट्री में 45-45 तथा बॉयोलॉजी से 90 प्रश्न पूछे गए थे। 

कटऑफ ऊपर जाने की उम्मीद
छात्र अभिनव ने बताया कि प्रश्न ठीक थे। फिजिक्स और बॉयोलॉजी घुमावदार थे। राकेश कुमार ने बताया कि पिछल साल की तुलना में प्रश्न ज्यादा आसान थे। प्रश्नों के हिसाब से कटऑफ ऊपर जाने की उम्मीद है। वैभव कुमार ने बताया कि बायोलॉजी सबसे स्कोरिंग विषय होगा। 

कटऑफ 600 होने की उम्मीद : विपिन कुमार
मेडिकल परीक्षा विशेषज्ञ गोल के निदेशक विपिन कुमार व उप निदेशक रंजय कुमार की मानें तो फिजिक्स के प्रश्न पिछले बार की तुलना में आसान थे। फिजिक्स में 11वीं से 17 प्रश्न एवं 12वीं से 28 प्रश्न पूछे गए हैं। मैकेनिक्स से 7 प्रश्न, हीट एवं थर्मोडाईनेमिक्स से 4 प्रश्न व एसएचएम एवं वेव्स से 2 प्रश्न, ग्रेविटेशन से 1 प्रश्न, यूनिट एवं मेजरमेंट से 3 प्रश्न, इलेक्ट्रो स्टेटिसटिक्स से 12 प्रश्न, ऑप्टिक्स से 4 प्रश्न एवं माडर्न से 12 प्रश्न पूछे गए। बायोलॉजी के सभी प्रश्न एनसीईआरटी से पूछे गए हैं। 11वीं से 46 प्रश्न एवं 12वीं से 44 प्रश्न पूछे गए। बॉटनी से 55 प्रश्न एवं जूलॉजी से 35 प्रश्न पूछे गए। केमिस्ट्री में 11वीं से 23 प्रश्न एवं 12वीं से 22 प्रश्न पूछे गए। फिजिकल से 16, ऑर्गेनिक से 14 एवं इनऑर्गेनिक से 15 प्रश्न पूछे गए। सभी प्रश्न एनसीईआरटी से ही थे। इनके अनुसार इस बार कटऑफ सामान्य श्रेणी में 600 के पार जा सकता है। वहीं अन्य का कुछ कम हो सकता है। 

नीट में पूछे गए 180 प्रश्न में बायोलॉजी  से 90 प्रश्न थे : आनंद जायसवाल  
नीट परीक्षा में कुल 180 प्रश्न पूछे गये, जिसमें बायोलॉजी, फिजिक्स एवं केमेस्ट्री में से क्रमश: 90, 45 व 45 प्रश्न पूछे गये। मेंटर एडुसर्व के निदेशक आनंद जायसवाल ने बताया कि फिजिक्स में लगभग 27 प्रश्न बहुत आसान, 15 प्रश्न मध्यम तथा 3 प्रश्न कठिन थे। बायोलॉजी में लगभग 62 प्रश्न बहुत आसान, 24 प्रश्न मध्यम तथा 4 प्रश्न कठिन थे। केमेस्ट्री में लगभग 22 प्रश्न बहुत आसान, 20 प्रश्न मध्यम तथा 3 प्रश्न कठिन थे। उन्होंने आगे बताया कि फिजिक्स में कुल 17 प्रश्न, कक्षा 11वीं एवं 28 प्रश्न कक्षा 12वीं के पाठ्यक्रम से थे। बायोलॉजी में कुल 47 प्रश्न कक्षा 11वीं व 43 प्रश्न कक्षा 12वीं के पाठ्यक्रम से थे। केमेस्ट्री में कुल 22 प्रश्न कक्षा 11वीं व 23 प्रश्न कक्षा 12वीं के पाठ्यक्रम से थे। फिजिक्स में मैकेनिक्स से 6 प्रश्न, हीट व थर्मोडायनिमिक्स से 5 प्रश्न, सांउड एवं वेव से 2 प्रश्न, इलेक्ट्रिसिटी एवं मैग्नेटिज्म से 13 प्रश्न, ऑप्टिक्स से 3 प्रश्न, एलास्टिसिटी, फ्ल्यूड व एरर से 5 प्रश्न एवं मॉर्डन फिजिक्स तथा सेमीकंडक्टर से 11 प्रश्न पूछे गये। बायोलॉजी में 53 प्रश्न बोटनी से एवं 37 प्रश्न जूलॉजी से पूछे गये। केमेस्ट्री में फिजिकल केमेस्ट्री से 17, ऑर्गेनिक केमेस्ट्री से 15 एवं इनऑर्गेनिक केमेस्ट्री से 13 प्रश्न पूछे गये। 

फिजिक्स और बायोलॉजी के सवालों का स्तर पिछले साल की तरह : अभिषेक झा  
शिखर कॅरियर इंस्टीट्यूट के मैनेजिंग डायरेक्टर अभिषेक झा ने बताया कि इस बार की नीट परीक्षा में फिजिक्स और बायोलॉजी के सवालों का स्तर कमोवेश पिछले साल के जैसा ही रहा। केमिस्ट्री में खासकर ऑर्गेनिक केमिस्ट्री में सवाल पिछले साल की तुलना में कठिन रहे। पिछले साल की अपेक्षा इस बार नीट की परीक्षा में कट ऑफ नीचे जाने की संभावना है। शिखर कॅरियर इंस्टीट्यूट के एकेडमिक डायरेक्टर और फिजिक्स डिपार्टमेंट के हेड संतोष कुमार ने बताया कि फिजिक्स के सवाल एनसीआरटी पर आधारित थे। कुछ सवाल मेमोरी बेस्ड थे। शिखर कॅरियर इंस्टीट्यूट के एसोसिएट डायरेक्टर और बॉयोलॉजी डिपार्टमेंट के हेड कुमार अंशुमन ने बताया कि बायोलॉजी के सवाल सिलेबस पर आधारित थे। कुछ सवाल अच्छे कॉन्सेप्ट्स पर आधारित थे। ज्यादातर सवाल एनसीईआरटी टेक्स्टबुक पर आधारित थे। शिखर कॅरियर इंस्टिट्यूट के एसोसिएट डायरेक्टर और फिजिकल केमिस्ट्री डिपार्टमेंट के हेड आशुतोष झा ने बताया कि इस बार के सवाल मध्यम स्तर के थे और कुछ सवाल कठिन थे। शिखर कॅरियर इंस्टीट्यूट के एसोसिएट डायरेक्टर और ऑर्गेनिक केमिस्ट्री डिपार्टमेंट के हेड रौनक वत्स ने बताया कि ऑर्गेनिक केमिस्ट्री के प्रश्न एनसीईआरटी सिलेबस पर आधारित थे।