Thursday, August 6, 2020

UPSC Result 2019: एमएस धोनी का मंत्र अपनाकर मणिपुर के परीक्षित ने पास की यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट

UPSC Result 2019: एमएस धोनी का मंत्र अपनाकर मणिपुर के परीक्षित ने पास की यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा , क्लिक करे और पढ़े पूरी पोस्ट 




'कैप्टन कूल' के नाम से मशहूर टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के एक मंत्र ने मणिपुर के एक शख्स के सपने को साकार कर दिया है। इंफाल वेस्ट के रहने वाले परीक्षित थौडम ने यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा 2019 में 373वीं हासिल की है। अपनी सफलता को लेकर न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत के दौरान उन्होंने एक इंटरव्यू में एमएस धोनी द्वारा कही गई उस बात का जिक्र किया जिसे पकड़कर वो सफलता की सीढ़ी तक पहुंचे। उन्होंने कहा, 'कप्तान रहते एमएस धोनी के सामने कई चुनौतियां आईं। धोनी ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि वह उसी चीज पर काबू पाने की कोशिश करते हैं जिस पर काबू पाया जा सकता है। आपकी मेहनत और खुद पर भरोसा ही आपके आगे तक लेकर जाएगा।'

परीक्षित ने कहा, 'यह एक ऐसी परीक्षा है जिसमें सिलेबस बहुत बड़ा होता है और कंपीटीशन कड़ा होता है। उस चीज परवाह नहीं करनी चाहिए जो आपको नियंत्रण में नहीं हैं। यह परीक्षा हर किसी के लिए है। इसमें समाज के हर तबके को जगह दी जाती है। तैयारी कर रहे अभ्यर्थी असफल होने पर अपना मनोबल न गिराएं।'

आपको बता दें कि यूपीएससी ने सिविल सेवा परीक्षा 2019 का फाइनल रिजल्ट जारी किया था। परीक्षा में हरियाणा के सोनीपत जिले के रहने वाले प्रदीप सिंह ने टॉप किया। दूसरे स्थान पर दिल्ली के जतिन किशोर और तीसरे स्थान पर यूपी के सुल्तानपुर की प्रतिभा वर्मा रहे। कुल 829 उम्मीदवारों का चयन किया गया है। इसमें 304 उम्मीदवार जनरल कैटेगरी से, 78 ईडब्ल्यूएस, 251 ओबीसी, 129 एससी और 67 एसटी कैटेगरी से हैं। यूपीएससी ने 182 उम्मीदवारों को रिजर्व लिस्ट में रखा है। 

हर वर्ष IAS, IPS ऑफिसर बनने का ख्वाब संजोने वाले लाखों उम्मीदवार यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा देते हैं। इस परीक्षा को देश की सबसे चुनौतिपूर्ण प्रतियोगी परीक्षाओं में से एक माना जाता है। 

यूपीएससी सिविल सेवा के जरिए इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज (आईएएस), भारतीय पुलिस सर्विसेज (आईपीएस) और भारतीय फॉरेन सर्विसेज (आईएफएस), रेलवे ग्रुप ए (इंडियन रेलवे अकाउंट्स सर्विस), इंडियन पोस्टल सर्विसेज, भारतीय डाक सेवा, इंडियन ट्रेड सर्विसेज सहित अन्य सेवाओं के लिए चयन किया जाता है।

यूपीएससी सिविल सेवा परीक्षा तीन चरणों -- प्रारंभिक, मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार-- में आयोजित की जाती है। मुख्य परीक्षा और साक्षात्कार में प्रदर्शन के आधार पर फाइनल मेरिट लिस्ट जारी होती है।