Thursday, August 13, 2020

UPPSC खंड शिक्षा अधिकारी प्री परीक्षा होगी तय समय पर , इलाहाबाद हाई कोर्ट ने खारिज की खंड शिक्षा अधिकारी भर्ती परीक्षा स्थगित करने की याचिका , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

UPPSC खंड शिक्षा अधिकारी प्री परीक्षा होगी तय समय पर , इलाहाबाद हाई कोर्ट ने खारिज की खंड शिक्षा अधिकारी भर्ती परीक्षा स्थगित करने की याचिका , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 




 इलाहाबाद हाई कोर्ट ने उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग की खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ) 2019 की प्रारंभिक परीक्षा स्थगित कराने की मांग में दाखिल जनहित याचिका खारिज कर दी है। कोर्ट ने कहा है कि परीक्षा के खिलाफ किसी प्रतियोगी छात्र को कोर्ट आना चाहिए। याची संगठन को जनहित याचिका में परीक्षा आयोजित करने को चुनौती देने का अधिकार नहीं है। कोर्ट ने हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया है। 

प्रतियोगी छात्र संघर्ष समिति और अन्य की जनहित याचिका की सुनवाई न्यायमूर्ति शशिकांत गुप्ता तथा न्यायमूर्ति वीके बिड़ला की खंडपीठ ने की। याचिका में कोविड-19 के चलते शारीरिक दूरी का पालन न करने पर संक्रमण फैलने की आशंका से परीक्षा स्थगित करने की मांग की गयी थी। 16 अगस्त को प्रदेश के 18 जिलों में उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग प्रतियोगी परीक्षा आयोजित करने जा रहा है। परीक्षा में पांच लाख 15 हजार अभ्यर्थियों के हिस्सा लेने की संभावना है। भारी संख्या में केंद्र पर आने वाले प्रतियोगी छात्र छात्राओं मे संक्रमण का खतरा है। कोर्ट ने तकनीकी खामियों के चलते हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया है।


उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ)-2019 की प्रारंभिक परीक्षा की तैयारी में जुटा है। वहीं, दूसरी ओर प्रतियोगी छात्र परीक्षा स्थगित कराने के लिए हर स्तर पर प्रयास कर रहे हैं। कोरोना संक्रमण की भयावह स्थिति का हवाला देकर प्रतियोगी परीक्षा टालने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र भेज चुके हैं। भाजपा सांसद वरुण गांधी से भी मुख्यमंत्री को पत्र भेजवाया है। सोशल मीडिया में लगातार आयोग के खिलाफ अभियान चला रहे हैं। जब उससे परीक्षा नहीं टली तो इलाहाबाद हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की गई, जिस पर गुरुवार को सुनवाई के बाद कोर्ट ने हस्तक्षेप करने से इनकार कर दिया।


1127 केंद्रों पर बीईओ-2019 प्रारंभिक परीक्षा : उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग की खंड शिक्षा अधिकारी (बीईओ) 2019 की प्रारंभिक परीक्षा के लिए प्रदेश के 18 जिलों में कुल 1127 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। यूपीपीएससी ने खंड शिक्षा अधिकारी-2019 के तहत 309 पदों की भर्ती निकाली है। इसमें पांच लाख 28 हजार से अधिक आवेदन हुए हैं। इसकी प्रारंभिक परीक्षा 16 अगस्त को प्रदेश के 18 जिलों में आयोजित होगी। परीक्षा के लिए लखनऊ में सबसे अधिक 141 केंद्र बनाए गए हैं। इसी तरह से प्रयागराज में 106, आजमगढ़ में 48, बरेली में 50, आगरा में 105, गोरखपुर में 49, अयोध्या में 41, गाजियाबाद में 54, जौनपुर में 51, झांसी में 34, कानपुर नगर में 112, बाराबंकी में 23, मेरठ में 52, मुरादाबाद में 68, रायबरेली में 26, सीतापुर में 34, वाराणसी में 97 व मथुरा में 36 केंद्र बनाए गए हैं।