Sunday, August 9, 2020

UP BEd JEE 2020: पहली पाली में नई शिक्षा नीति पर पूछे गए सवाल, दूसरी पाली भी शांतिपूर्ण संपन्न , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

UP BEd JEE 2020: पहली पाली में नई शिक्षा नीति पर पूछे गए सवाल, दूसरी पाली भी शांतिपूर्ण संपन्न , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर




कोरोना संक्रमण काल के बीच प्रदेश स्तर पर सबसे बड़ी बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा 2020 की पहली और दूसरी पाली शांति से संपन्न हो गई। पहली पाली में अभ्यर्थियों की उपस्थिति लगभग 90 फीसदी से अधिक रही। इससे इस बात के स्पष्ट संकेत सामने देखने को मिले की अभ्यर्थी अपने भविष्य को लेकर इस कदर चिंतित है कि हर जोखिम से निपटने को तैयार हैं। हालांकि, परीक्षा केंद्रो पर शारीरिक दूरी के मानक की खुलकर धज्जियां उड़ती नजर आईं। जबकि परीक्षा के दौरान शारीरिक दूरी के मानक को कड़ाई से पालन कराए जाने को लेकर लखनऊ विश्वविद्यालय प्रशासन और जिला प्रशासन द्वारा बड़े-बड़े दावे किए गए थे। वहीं, अभ्यर्थियों के मुताबिक, पहली पाली में नई शिक्षा नीति पर सवाल पूछे गए थे। प्रथम पाली के दौरान डीएम अभिषेक प्रकाश शिया पीजी कॉलेज पहुंचे। जहां उन्होंने परिक्षार्थियों के सीटिंग अरेंजमेंट को देखा साथ ही उनसे किसी भी तरह की परेशानी के पूछा। वहीं उन्होंने मॉनिटरिंग रूम में जाकर सारे कक्षाओं की व्यवस्था भी देखी। 



बता दें कि बीएड की संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए राजधानी लखनऊ में 82 केंद्र बनाए गए थे। इस परीक्षा में करीब 30500 अभ्यर्थी शामिल होने थे। सुबह 9 बजे से शुरू होने वाली पहली पाली की परीक्षा में शामिल होने के लिए सात बजे से ही केंद्रों पर गहमागहमी शुरू हो गई थी। केंद्र पर सेटिंग प्लान देखने के दौरान ही केंद्रों पर उमड़ी भीड़ ने शारीरिक दूरी के मानक की खुलकर धज्जियां उड़ाई। इस दौरान केंद्रों पर मौजूद रहे पुलिकर्मी /व्यवस्थापक भी असहाय दिखे।


पेन पेंसिल की तरह हाथ में था सैनिटाइजर

कोरोना काल में बीएड प्रवेश परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों के लिए पेन-पेंसिल और रबड़ की ही तरह सैनिटाइजर और मास्क भी आवश्यक सामग्री बन गया। बिना मास्क और सैनिटाइजर के किसी भी अभ्यर्थी को केंद्र के अंदर प्रवेश नहीं दिया जा रहा था।