Wednesday, August 26, 2020

NEET Admit Card 2020: पहले 3 घंटे में 4 लाख स्टूडेंट्स ने डाउनलोड किया नीट एडमिट कार्ड , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

 NEET Admit Card 2020: पहले 3 घंटे में 4 लाख स्टूडेंट्स ने डाउनलोड किया नीट एडमिट कार्ड , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर




नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने बुधवार दोपहर करीब 12 बजे मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट के एडमिट कार्ड अपनी आधिकारिक वेबसाइट ntaneet.nic.in पर जारी कर दिए। एडमिट कार्ड जारी किए जाने के बाद तीन घंटों के भीतर करीब 4 लाख अभ्यर्थियों ने अपने प्रवेश पत्र डाउनलोड कर लिए। नीट परीक्षा 13 सितंबर को दोपहर 2 बजे से 5 बजे के बीच होने जा रही है। नीट के लिए 15.97 लाख विद्यार्थी पंजीकृत हैं। परीक्षार्थियों को कुछ दिनों पहले यह बता दिया गया था कि उनकी परीक्षा किस शहर में है। अब एडमिट कार्ड पर वह अपने परीक्षा केंद्र का पूरा पता, रिपोर्टिंग टाइम समेत अन्य सभी जानकारियां चेक कर सकते हैं। सभी विद्यार्थी एडमिट कार्ड पर दी गईं गाइडलाइंस भली भांति पढ़ लें। कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए एनटीए ने कई दिशानिर्देश तय किए हैं। देश भर के मेडिकल कॉलेजों में MBBS/BDS कोर्सेज में प्रवेश के लिए नीट परीक्षा आयोजित होती है। 

इससे पहले नीट परीक्षा स्थगित करने की मांगों के बीच मंगलवार को एनटीए और सरकार की तरफ से यह साफ कर दिया गया कि परीक्षा सितंबर में अपने तय समय पर आयोजित की जाएगी। एनटीए ने 99 फीसदी छात्रों के लिए उनकी पहली प्राथमिकता का परीक्षा केंद्र सुनिश्चित किया है। 


नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने जेईई-नीट की परीक्षाओं को सुरक्षित बनाने और अभ्यर्थियों की आशंकाओं को खत्म करने के लिए नए दिशानिर्देश जारी किए। 

- नीट की परीक्षा के दौरान एक कक्षा में 24 की जगह 12 अभ्यर्थी बैठेंगे। 
- नीट परीक्षा के केंद्र 2546 से बढ़ाकर 3843 किए गए हैं। 
- परीक्षार्थियों को एक-दूसरे से छह फीट की दूरी बनाकर रखनी होगी। 
- जिस परीक्षार्थियों का बॉडी टेम्परेचर 99.4 डिग्री फॉरेनहाइट से ज्यादा होगा, उन्हें आइसोलेशन रूम में ले जाया जाएगा। वह वहीं बैठकर परीक्षा देंगे।
- फ्रिस्किंग, डॉक्यूमेंट की वेरिफिकेशन का काम रजिस्ट्रेशन रूम के अंदर किया जाएगा। 
- परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र में नया मास्क दिया जाएगा। परीक्षा केंद्र में एडमिट कार्ड, आईडी प्रूफ के साथ सिर्फ पानी की बोतल, हैंड सेनिटाइजर ले जाने की ही अनुमति होगी।
- परीक्षा देते समय स्टूडेंट्स के लिए मास्क लगाना और ग्लोव्स पहनना अनिवार्य नहीं होगा। 

- हर अभ्यर्थी को इस बात का सेल्फ डिक्लरेशन देना होगा कि वो कोरोना पॉजिटिव नहीं है और न ही किसी कोरोना मरीज के संपर्क में आये हैं। 



एनटीए ने कहा है कि परीक्षा के दौरान भीड़ न हो, इसके लिए प्रवेश औऱ निकासी के समय और द्वार को अलग रखने का भी निर्णय किया गया है। अभ्यर्थी एक साथ अंदर नहीं प्रवेश करेंगे और न ही एक साथ परीक्षा कक्ष छोड़ने की इजाजत होगी। सोशल डिस्टेंसिंग को लेकर अभ्यर्थियों के क्या करें-क्या न करें के दिशानिर्देश जारी किए गए हैं। अगर परीक्षा केंद्र के बाहर किसी को इंतजार करना पड़ रहा रहा है, तो उस दौरान भी सोशल डिस्टेसिंग बनी रहेगी। 

एनटीए ने तमाम राज्यों सरकारों से कहा है कि वह परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र तक पहुंचाने में मदद करे। 


प्रोटोकॉल के मुताबिक स्टाफ मैंबर और उम्मीदारों के हर प्रवेश द्वार पर थर्मोगन से फीवर चेक होगा। अगर किसी में कोई कोविड-19 के कोई लक्षण पाए गए तो उन्हें अलग आइसोलेशन कमरे में बैठाया जाएगा। थंब इम्प्रेशन के जरिए उपस्थिति नहीं ली जाएगी।