Monday, August 17, 2020

वीकली . टॉप-10 करेंट अफेयर्स इवेंट्स : 10 अगस्त - 15 अगस्त 2020 , क्लिक करे और पढ़े

वीकली . टॉप-10 करेंट अफेयर्स इवेंट्स : 10 अगस्त -  15 अगस्त 2020 , क्लिक करे और पढ़े 






1.प्रधानमंत्री मोदी ने लॉन्च किया नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन, जानें इसके बार में सबकुछ
प्रधानमंत्री मोदी ने ‘आत्मनिर्भरता’ को कोरोना वायरस महामारी से मिली सबसे बड़ी सीख करार देते हुए इस अभियान की घोषणा की. पीएम मोदी ने इस दिवस के मौके पर देशवासियों को संबोधित करते हुए कहा कि इससे देश के स्वास्थ्य क्षेत्र में नई क्रांति आएगी और तकनीक के माध्यम से लोगों की परेशानियां कम होंगी.

नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन के तहत एक विशेष कार्ड जारी किया जाएगा. ये आधार कार्ड की तरह होगा. उल्लेखनीय है कि इस कार्ड के जरिए मरीज के निजी मेडिकल रिकॉर्ड का पता लगाया जा सकेगा. प्रधानमंत्री ने कहा कि नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन ( NDHM ) आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना ( Jan Aarogya ) की तर्ज पर होगा.

2.Supreme Court ने अवमानना मामले में प्रशांत भूषण को माना दोषी
सुप्रीम कोर्ट ने अपने फैसले में प्रशांत भूषण को कोर्ट की अवमानना का दोषी बताया है और कहा है कि इस मामले में सजा पर सुनवाई 20 अगस्त को होगी. न्यायमूर्ति अरुण मिश्रा, न्यायमूर्ति बी आर गवई और न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी की पीठ ने इस मामले में अधिवक्ता प्रशांत भूषण को दोषी करार दिया.

प्रशांत भूषण ने अपने हलफनामे में कहा था कि किसी एक प्रधान न्यायाधीश या उसके बाद के प्रधान न्यायाधीशों के कामकाज की आलोचना करने का मतलब सुप्रीम कोर्ट की छवि को खराब करना नहीं है. सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में प्रशांत भूषण को 22 जुलाई 2020 को कारण बताओ नोटिस जारी किया था.

3.प्रधानमंत्री मोदी ने रचा इतिहास, बने सबसे लंबे समय तक शासन करने वाले पहले गैर कांग्रेसी PM
यह रिकॉर्ड इससे पहले बीजेपी के अटल बिहारी वाजपेयी के नाम दर्ज रहा है. अटल बिहारी वाजपेयी अपने सभी कार्यकाल को मिलाकर 2,268 दिनों तक प्रधानमंत्री रहे. 13 अगस्त 2020 को प्रधानमंत्री मोदी ने उस रिकॉर्ड को तोड़कर यह उपलब्धि अपने नाम दर्ज की. बता दें कि यह रिकॉर्ड पहले अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर था.

देश की सबसे ज्यादा समय तक सेवा करने के तीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और मनमोहन सिंह हैं. ये तीनों ही कांग्रेस पार्टी के हैं. भारतीय राजनीति में सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री बने रहने का रिकॉर्ड पंडित जवाहरलाल नेहरू के नाम दर्ज है.

4.इजराइल और यूएई के बीच हुआ ऐतिहासिक शांति समझौता, जानें विस्तार से
इजराइल और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के संबंधों के इतिहास में एक बड़ा मोड़ आया है. दोनों देशों में रिश्तों को सामान्य करने के लिए सहमति बन गई है. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट कर इस एतिहासिक समझौते की घोषणा की है. दोनों देशों के बीच कई सालों से चल रही दुश्मनी नए समझौते के साथ ही महत्वपूर्ण हो गई.

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ओवल ऑफिस से कहा कि 49 वर्षों के बाद, इजरायल और संयुक्त अरब अमीरात अपने राजनयिक संबंधों को पूरी तरह से सामान्य करेंगे. व्हाइट हाउस द्वारा जारी संयुक्त बयान में तीनों देशों का कहना है कि यह ऐतिहासिक राजनयिक सफलता मध्य पूर्व क्षेत्र में शांति को आगे बढ़ाएगी.

5.अमेरिका ने H-1B वीजा प्रतिबंधों में किया छूट का ऐलान, जानें किसे होगा फायदा
ट्रंप प्रशासन की ओर से कहा है कि नियमों में बदलाव किये गए हैं, ताकि चुनिंदा मामलों में वीजा धारकों को अमेरिका आने की अनुमति दी जा सके. इस ढील के बाद H-1B वीजा धारकों को अमेरिका में फिर से प्रवेश की अनुमति मिल सकेगी. इस फैसले से इन वीजा धारकों को अमेरिका में प्रवेश करने की अनुमति मिल सकेगी.

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 10 अगस्त को एच-1 बी वीजा प्रणाली के धोखाधड़ी और दुरुपयोग को खत्म करने के लिए एक कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर किए. इससे अब अमेरिका में नौकरी करने वाले लोगों को बड़ा फायदा मिलेगा. राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का यह कदम अमेरिकी श्रमिकों की रक्षा के लिए काफी मददगार साबित होने वाला है.

6.US Elections 2020: भारतीय मूल की कमला हैरिस होंगी उप-राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार
उपराष्ट्रपति पद के लिए चुने जाने के बाद सीनेटर कमला हैरिस ने अपनी पहली प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि जो बिडेन अमेरिका के लोगों को एकजुट कर सकते हैं, क्योंकि उन्होंने अपने पूरे जीवन में हमारे लिए संघर्ष किया है. कमला हैरिस को उमीदवार बनाए जाने की भारतीय- अमेरिकी समुदाय ने काफी प्रशंसा की है.

कमला हैरिस भारतीय मूल की अमेरिकी नागरिक हैं. उनकी मां श्यामा गोपालन हैरिस का जन्म चेन्नई में हुआ था. वे एक कैंसर शोधकर्ता थीं. उनके पिता डोनाल्ड हैरिस जमैका के रहने वाले हैं, जो फिलहाल स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय में पढ़ाते हैं. कमला हैरिस दो बार कैलीफोर्निया की अटार्नी जनरल रह चुकी है.

7.रेल मंत्रालय का बड़ा फैसला, सभी रेगुलर यात्री ट्रेनें अनिश्चितकाल के लिए रद्द
रेलवे ने कहा है कि सभी नियमित यात्री ट्रेन सेवाएं अगले नोटिस तक निलंबित रहेंगी. वहीं 230 विशेष ट्रेनें (Special Trains) चलती रहेंगी. रेलवे ने कहा कि सभी संबंधित पक्षों के संज्ञान में लाया जाता है, जैसा पहले ही निर्णय लिया गया है और सूचित किया गया है कि नियमित यात्री और लोकल ट्रेन सेवाएं अगले नोटिस तक निलंबित रहेंगी.

गौरतलब है कि बीते मार्च महीने से देशभर में शुरू किए गए सख्त लॉकडाउन के बाद रेल ऑपरेशन बंद कर दिया गया था. दुनिया के चौथे बड़े रेल नेटवर्क भारतीय रेलवे ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए यात्री ट्रेनों का आपरेशन बंद किया था. 166 सालों में ये पहला मौका था जबकि भारतीय रेलवे ट्रेनों का संचालन बंद किया गया.

8.सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, पिता की पैतृक संपत्ति पर बेटी का समान अधिकार
सुप्रीम कोर्ट ने आदेश देते हुए कहा कि भले ही हिंदू उत्तराधिकार (संशोधन) अधिनियम 2005 के लागू होने से पहले ही किसी की मृत्यु हो गई हो, तो भी उनकी बेटियों का पैतृक संपत्ति पर अधिकार होगा. सुप्रीम कोर्ट की तीन जजों की बेंच ने मामले की सुनवाई की.

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अरुण मिश्रा ने फैसला सुनाते हुए कहा कि बेटों की ही तरह, बेटियों को भी बराबर के अधिकार दिए जाने चाहिए. बेटियां जीवनभर बेटियां ही रहती हैं. बेटी अपने पिता की संपत्ति में बराबर की हकदर बनी रहती है, भले उसके पिता जीवित हों या नहीं.

9.ग्रेट निकोबार द्वीप में 10,000 करोड़ रुपये के ट्रांस शिपमेंट बंदरगाह के निर्माण की योजना: प्रधानमंत्री मोदी
प्रधानमंत्री ने कहा कि आने वाले समय में अंडमान निकोबार, बंदरगाह विकास से जुड़ी गतिविधियों के बड़े केन्द्र के रूप में विकसित होने वाला है. भारत की मुख्य भूमि से 2,312 किलोमीटर दूर तक इस केबल को समुद्र के अंदर बिछाया गया है जिस पर 1,224 करोड़ रुपये की लागत आई है.

प्रधानमंत्री ने कहा कि अंडमान निकोबार द्वीप पर विकसित हाने वाले माल परिवहन के लिये समर्पित रणनीतिक कंटेनर पोतांतरण टर्मिनल के दो भौगोलिक फायदे होंगे. पहला यह व्यस्त पूर्वी- पश्चिमी अंतरराष्ट्रीय जहाजरानी मार्ग के नजदीक है.

10.प्रधानमंत्री मोदी ने अंडमान निकोबार केबल संचार सुविधा का उद्घाटन किया, जानें इसके बारे में सबकुछ
प्रधानमंत्री ने यहां लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर, पोर्ट ब्लेयर से लिटिल अंडमान और पोर्ट ब्लेयर से स्वराज द्वीप तक, अंडमान निकोबार के एक बड़े हिस्से में ये सेवा आज से शुरु हो चुकी है. उन्होंने कहा कि इस फाइबर केबल कनेक्टिविटी से यहां आने वाले लोगों को काफी सुविधा मिलेगी.

प्रधानमंत्री के अनुसार, 'बेहतर दूरसंचार और ब्रॉडबैंड संपर्क सुविधा से अंडमान निकोबार द्वीप क्षेत्र में पर्यटन और रोजगार सृजन को गति मिलेगी. साथ ही इससे अर्थव्यवस्था में मजबूती आएगी और लोगों का जीवन स्तर सुधरेगा. इसके साथ ही इंटरनेट कनेक्टिविटी में बहुत बड़ा सुधार हो जाएगा.