Thursday, July 30, 2020

UP POLICE NEWS ::: आगरा में 197 रिक्रूट बने सिपाही, पुलिस लाइन में मास्क लगाकर की पासिंग आउट परेड,क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

UP POLICE NEWS ::: आगरा में 197 रिक्रूट बने सिपाही, पुलिस लाइन में मास्क लगाकर की पासिंग आउट परेड,क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 




आगरा की पुलिस लाइन में छह महीने तक कड़े प्रशिक्षण के बाद बाह्य और आंतरिक परीक्षा पास कर 197 रिक्रूट सिपाही बन गए। गुरुवार को पुलिसलाइन में सिपाहियों की पासिंग आउट परेड हुई। कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए परेड में सामाजिक दूरी पूरा ध्यान रखा गया। सिपाहियों ने मास्क लगाकर परेड की। एडीजी अजय आनंद ने परेड की सलामी ली। उन्होंने सिपाहियों से कहा कि जनता को कानून का पाठ पढ़ाएं। खुद भी नियमों और कानून का पालन करें। अनुशासित बल में पूरी लगन के साथ कार्य करें। खुद कोई कानून न तोड़े। 

वर्ष 2019 में 43वीं वाहिनी पीएसी एटा के 218 रिक्रूट का प्रशिक्षण पुलिस लाइन आगरा में पूरा हुआ। इनमें से 197 ने बाह्य और आंतरिक परीक्षा पास की। इनमें मथुरा के 216, हाथरस और अलीगढ़ के एक-एक रिक्रूट थे। आंतरिक परीक्षा में कानून, विभिन्न अधिनियम और विभागीय कार्यों की जानकारी के बारे में पूछा जाता है। बाह्य परीक्षा में हथियार चलाने और क्षेत्ररक्षण आदि के बारे में जानकारी ली जाती है। परीक्षा पास करने वालों ने गुरुवार को पूरे जोश के साथ पासिंग आउट परेड की। परेड कमांडर प्रथम नरेंद्र सिंह, द्वितीय सोनू सिंहऔर तृतीय राधाकृष्ण गुर्जर रहे। 


कोरोना संक्रमण को देखते हुए पुलिस लाइन में परेड के दौरान सभी रिक्रूट ने मास्क पहन रखा था। सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) का भी पालन किया गया। इस दौरान एसएसपी बबलू कुमार,एसपी सिटी बोत्रे रोहन प्रमोद, एएसपी सौरभ दीक्षित सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद रहे। इन सिपाहियों को एटा, मथुरा और आगरा में तैनाती दी जाएगी। पासिंग आउट परेड कार्यक्रम में सिपाहियों के परिजन भी शामिल हुए। 


पीएसी में सिपाही बनने वाले ज्यादातर रिक्रूट ग्रामीण परिवेश से आए हैं। बेटे के खाकी पहनने से मां-बाप की खुशी का ठिकाना नहीं रहा। बेटों ने भी उनका आशीर्वाद लेकर पूरी लगन से ड्यूटी पूरी करने का वचन दिया। मथुरा के मगोर्रा थाना स्थित माड़ा गांव निवासी अवकाश पुत्र सुखवीर सिंह ने बताया कि पिता किसान हैं। ताऊ के बेटे पुलिस में हैं। इसलिए पिता भी यही कहते थे कि बेटा तुम भी पुलिस में जाना। इसके लिए तैयारी शुरू कर दी। गांव में ही दौड़ लगाते थे। कोचिंग नहीं की। परीक्षा की तैयारी में घर रहकर की। अब सफलता मिल गई। 


मथुरा के कोसीकलां निवासी अजित सिंह पुत्र जगवीर सिंह के पिता भी खेती करते हैं। एक बहन और भाई है। अजित के ताऊ कप्तान सिंह आगरा में पुलिस में तैनात हैं। अजित ने बताया कि जब ताऊ गांव में आते थे तो वर्दी पहने हुए रहते हैं। उन्हें देखकर काफी अच्छा लगता था। इस कारण उसने भी पुलिस में जाने की ठान ली। इसके लिए तैयारी शुरू कर दी। अब सफलता मिल गई। अब पूरी ईमानदारी के साथ ड्यूटी करनी है। 

मथुरा के गोवर्धन निवासी चंद्रकांत शुक्ला पुत्र नारायण स्वरूप के पिता भी किसान हैं। उन्होंने बताया कि चार भाई और बहन हैं। दादा रामसनेही वन विभाग में कार्यरत थे। घर में कोई पुलिस में नहीं है। इसलिए दादा चाहते थे कि नाती पुलिस में जाए। वह उनका सपना पूरा करे। इसलिए तैयारी की। 


21 रिक्रूट हो गए परीक्षा में फेल 
एएसपी सौरभ दीक्षित ने बताया कि एटा पीएसी के 219 रिक्रूट का प्रशिक्षण शुरू हुआ था। इनमें से एक ने शिक्षक की नौकरी लगने पर प्रशिक्षण छोड़ दिया। 218 में से 197 पास हुए। 21 परीक्षा पास नहीं कर सके। अब उनका दोबारा प्रशिक्षण कराया जाएगा। उन्हें 42 दिन दूसरीज जगह पर ट्रेनिंग दी जाएगी।