Monday, July 13, 2020

CBSE Results 2020: लखनऊ की दिव्यांशी इंडिया टॉपर, इंटर में हासिल किए शत-प्रतिशत अंक , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

CBSE Results 2020: लखनऊ की दिव्यांशी इंडिया टॉपर, इंटर में हासिल किए शत-प्रतिशत अंक , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर






 केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) में दिव्यांशी जैन ने 12वीं में 600 में से 600 नंबर हासिल करके इतिहास रच दिया है। नवयुग रेडियंस स्कूल की छात्रा दिव्यांशी की इस सफलता के बाद स्कूल से लेकर आस-पड़ोस और परिचित रिश्तेदारों में बधाई देने का तांता लग गया।

दिव्यांशी के अनुसार उसने सपने में भी नहीं सोचा था कि उसे शत-प्रतिशत नंबर मिल सकते हैं। यह सफलता इसलिए भी खास है क्योंकि दिव्यांशी ने मानविकी में ये नंबर हासिल किये हैं।
हाईस्कूल में दिव्यांशी को 97.6 प्रतिशत अंक हासिल हुए थे। दिव्यांशी के पिता राकेश प्रकाश जैन बिजनेसमैन तथा सीमा जैन गृहिणी हैं।
दिव्यांशी जैन का रिपोर्ट कार्ड
इंग्लिश- 100
संस्कृत- 100
इतिहास- 100
भूगोल- 100
इश्योरेंस- 100
इकोनॉमिक्स- 100


इस साल सीबीएसई के 12वीं कक्षा का रिजल्ट 88.78 फीसदी रहा
बता दें कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) ने सोमवार को अचानक बारहवीं कक्षा के नतीजे घोषित किए। इस साल सीबीएसई के 12वीं कक्षा का रिजल्ट 88.78 फीसदी रहा है जो कि पिछले साल के मुकाबले बेहतर है।

केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बारहवीं कक्षा में सफल हुए विद्यार्थियों को शुभकामनाएं दी हैं। इस साल 10.59 लाख विद्यार्थियों ने बारहवीं कक्षा में सफलता पाई है। विद्यार्थी बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट पर अपना रिजल्ट चेक कर सकते  हैं। इस साल असफल विद्यार्थियों के डॉक्युमेंट में फेल शब्द नहीं लिखा जायगा। इसकी जगह एसेंशियल रिपीट लिखा होगा।

पिछले साल से 5 फीसदी ज्यादा रहा है इस साल का रिजल्ट
इस साल का सीबीएसई बारहवीं कक्षा का रिजल्ट पिछले साल के मुकाबले बढ़िया रहा है। पिछले साल सीबीएसई के बारहवीं कक्षा का रिजल्ट 83.40 फीसदी रहा था। लेकिन इस साल बारहवीं कक्षा का रिजल्ट पिछले साल से 5.38 फीसदी ज्यादा रहा है। बंगलूरू में सीबीएसई के बारहवीं कक्षा का रिजल्ट  97.05 फीसदी रहा है।

इस साल सीबीएसई ने मेरिट लिस्ट जारी नहीं की है। दिल्ली वेस्ट का रिजल्ट 94.6 फीसदी रहा है। दिल्ली का ओवरऑल रिजल्ट 94.39 फीसदी रहा है। इस साल बारहवीं कक्षा के लिए 1203595 छात्रों ने रजिस्ट्रेशन करवाया था जिनमें से 1192961 ने परीक्षा दी थी।