Saturday, July 4, 2020

कोरोना वायरस अपडेट :: 15 अगस्त तक आ सकता है कोरोना वायरस का टीका , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

कोरोना वायरस अपडेट :: 15 अगस्त तक आ सकता है कोरोना वायरस का टीका , क्लिक करे और पढ़े  पूरी खबर 



सब ठीक रहा तो आने वाला स्वतंत्रता दिवस शायद कोरोना से मुक्ति का भी मंत्र लेकर आएगा। लाल किले से 15 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कोरोना की स्वदेशी वैक्सीन को लांच कर सकते हैं। आइसीएमआर और भारत बायोटेक की साङोदारी से तैयार इस वैक्सीन का जानवरों पर परीक्षण सफल रहा है और इसके ह्यूमन ट्रायल (मानव परीक्षण) की प्रक्रिया शुरू हो गई है। आइसीएमआर ने ट्रायल के लिए चुने सभी संस्थाओं को तय समय सीमा के भीतर इसके अनुपालन का सख्त निर्देश दिया है। यदि 15 अगस्त को यह वैक्सीन लांच हुई तो यह दुनिया में कोरोना की पहली वैक्सीन होगी। वैसे तो पूरी दुनिया में कोरोना की 140 वैक्सीन पर काम हो रहा है, जो ट्रायल के विभिन्न फेज में है। इनमें ब्रिटेन के आक्सफोर्ड विवि और अमेरिकी कंपनी मोडेरना की वैक्सीन को दौड़ में सबसे आगे माना जा रहा है। दोनों ही वैक्सीन ह्यूमन ट्रायल के तीसरे चरण में हैं। वहीं स्वदेशी तकनीक से तैयार आइसीएमआर-भारत बायोटेक की वैक्सीन को पहले व दूसरे फेज के ह्यूमन ट्रायल की अनुमति दी गई है। जाहिर है इस भारतीय वैक्सीन को दौड़ में पीछे माना जा रहा था। भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आइसीएमआर) के महानिदेशक डॉक्टर बलराम भार्गव की ओर से गुरुवार को वैक्सीन के ट्रायल के लिए चुने गए एक दर्जन संस्थानों को लिखे गए पत्र से साफ होता है कि भारत दुनिया के अन्य देशों को पीछे छोड़ने की तैयारी में है। डॉक्टर भार्गव के अनुसार इस वैक्सीन का ह्यूमन ट्रायल जल्द-से-जल्द पूरा करने का फैसला किया गया है ताकि 15 अगस्त को इसे आम लोगों के लिए लांच किया जा सके। उन्होंने साफ कर दिया है कि इस पूरी प्रक्रिया की ‘सरकार में उच्चतम स्तर’ पर निगरानी की जा रही है और निर्देशों का पालन नहीं किए जाने को गंभीरता से लिया जाएगा। इसके साथ ही यह भी साफ कर दिया है कि सात जुलाई के पहले ट्रायल के लिए लोगों का पंजीकरण भी हो जाना चाहिए।