Saturday, July 11, 2020

वीकली टॉप-10 करेंट अफेयर्स इवेंट्स : 06 जुलाई - 11 जुलाई 2020 , क्लिक करे और पढ़े

वीकली टॉप-10 करेंट अफेयर्स इवेंट्स : 06 जुलाई -  11 जुलाई 2020  , क्लिक करे और पढ़े 




1.World Population Day 2020: जानें विश्व जनसंख्या दिवस का महत्व और इतिहास
विश्व जनसंख्या दिवस हर साल 11 जुलाई को जनसंख्या के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए मनाया जाता है. इस दिन को मानाने का उद्देश्य बढ़ती जनसंख्या को रोकने और इसके प्रति लोगों को जागरूक करना होता है. इस दिवस पर विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन होता है जिनमें जनसंख्या वृद्धि की वजह से होने वाले खतरे के प्रति लोगों को आगाह किया जाता है.

चीन और भारत विश्व के सबसे ज्यादा जनसंख्या वाले देश हैं. इन दोनों देशों में पूरी विश्व की आबादी के तीस फीसदी से भी ज्यादा लोग रहते हैं. विश्व जनसंख्या दिवस मनाने की शुरुआत 11 जुलाई 1989 को संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम की संचालक परिषद द्वारा हुई थी. उस समय विश्व की जनसंख्या लगभग 500 करोड़ थी. जनसंख्या को रोकने हेतु लोगों को इस बारे में शिक्षित करने की आवश्यकता है.

2.प्रधानमंत्री मोदी ने एशिया के सबसे बड़े सोलर प्लांट का लोकार्पण किया
मध्यप्रदेश के रीवा जिले में एशिया का सबसे बड़ा सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित किया गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से 750 मेगावाट के अल्ट्रा मेगा सौर ऊर्जा संयंत्र को राष्ट्र को समर्पित किया. इस सोलर प्लांट से मध्य प्रदेश के लोगों को, उद्योगों को तो बिजली मिलेगी ही, दिल्ली में मेट्रो रेल तक को इसका लाभ मिलेगा.

परियोजना की कुल लागत लगभग 4000 करोड़ रुपये होने की उम्मीद है. विश्व बैंक ने जनवरी 2018 में परियोजना के आंतरिक बुनियादी ढांचे के लिए 30 मिलियन अमरीकी डॉलर के ऋण को मंजूरी दी थी. प्लांट के अंदर सौर उर्जा से बिजली उत्पादन के लिए 3 यूनिट हैं. इस परियोजना के शुरू हो जाने के बाद अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रीवा का नाम स्थापित होगा.

3.वर्ष 2025 तक चीन हर साल बना सकता है 6 से 8 परमाणु रिएक्टर
चीन के परमाणु ऊर्जा संघ के अनुसार, वर्ष 2020 तक देश की कुल स्थापित परमाणु क्षमता 52 गीगावॉट होगी. वर्ष 2020 के लिए पहले निर्धारित लक्ष्य 58 गीगावॉट था. हालांकि, परमाणु ऊर्जा संघ ने पुष्टि की है कि, चीन को उम्मीद है कि वह फिर से विकास-पथ पर लौट आयेगा और वर्ष 2035 तक अपनी कुल क्षमता लगभग 200 गीगावॉट निर्माणाधीन या परिचालन में हासिल कर लेगा.

पहले से अपरीक्षित तकनीक से जुड़ी प्रमुख परियोजनाओं में देरी के कारण चीन की परमाणु ऊर्जा महत्वाकांक्षाओं पर रोक लगी हुई थी. वर्ष 2011 में जापान की फुकुशिमा आपदा के बाद नए अनुमोदन पर चार साल तक पाबंदी लगी थी और यह पाबंदी एक बड़े भूकंप और उसके बाद सुनामी के कारण और बढ़ गई.

4.भारत और यूरोपीय संघ के बीच 15 जुलाई को होगी ऑनलाइन बैठक, जानें विस्तार से
शिखर सम्मेलन इस साल की शुरुआत में होने वाला था, लेकिन COVID-19 महामारी के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था. इस प्रभावशाली समूह के अधिकारियों ने 09 जुलाई 2020 को यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शिखर बैठक में यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष चार्ल्स मिशेल और यूरोपीय आयोग की अध्यक्ष उर्सुला वॉन डेर लेयेन के साथ विभिन्न मुद्दों पर व्यापक वार्ता करेंगे.

यूरोपीय संघ के अधिकारियों ने बताया कि शिखर सम्मेलन में साझा सिद्धांतों और कानून के शासन, स्वतंत्रता और लोकतंत्र के मूल्यों के आधार पर रणनीतिक संबंधों को मजबूत बनाने पर जोर दिया जाएगा. इस दौरान यूरोपीय संघ और भारत के लोगों को ठोस लाभ पहुंचाने पर जोर दिया जाएगा. भारत और यूरोपीय संघ वर्ष 2004 से रणनीतिक साझेदार हैं.

5.रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर में 6 पुलों का किया उद्घाटन
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने छह प्रमुख पुलों को राष्ट्र को समर्पित किया है. ये पुल सामरिक महत्व के हैं. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मुझे यह कहते हुए गर्व महसूस हो रहा है कि इन पुलों का निर्माण दुश्मनों द्वारा निरंतर सीमा पर गोलीबारी के बावजूद समय पर पूरा कर लिया गया है. ये पुल सामरिक रूप से महत्वपूर्ण क्षेत्रों में सशस्त्र बलों को आवाजाही की सुविधा प्रदान करेंगे.

इससे न केवल सीमा क्षेत्र के साठ के करीब गांवों के लोगों को हीरानगर आने जाने की सुविधा मिलेगी, बल्कि सांबा-कठुआ ओल्ड मार्ग पर दोबारा बसें दौड़ेगी. यह बसें साल 1980 के बाद खस्ताहाल मार्ग तथा नालों पर पुल नहीं होने की वजह से बंद हो गई थीं. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा की जल्द ही अटल टनल का भी काम पूरा कर देश को समर्पित किया जाएगा.

6.भारतीय सेना ने 89 Apps पर लगाया बैन, देखें पूरी सूची
सरकार ने जिन चाइनीज एप्स पर प्रतिबंध लगाया है उनमें टिकटॉक, हेलो और कैमस्कैनर जैसे ऐप्स शामिल हैं. पिछले दिनों हुई गलवान में चीनी सेना से झड़प के बाद भारत में चीनी सामानों चीनी व्यवसाय का विरोध हो रहा था. इसके बाद सुरक्षा के लिहाज से केंद्र सरकार ने 59 ऐप्स को प्रतिबंधित कर दिया था. इसके बाद अब भारतीय सेना ने भी सुरक्षा के लिहाज इसी तरह का फैसला लिया है.

विभिन्न विदेशी ऐप्स पर भारत सरकार के बाद सेना की ओर से उठाए गए कठोर कदमों का एक और मायने है. वे यह कि अब भारत ऐप्स के मामले में आत्मनिर्भरता की ओर तेजी से कदम बढ़ाने जा रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी देशवासियों को ऐप चैलेंज देकर यही जताने की कोशिश की है. पिछले दिनों हुई गलवान में चीनी सेना से झड़प के बाद भारत में चीनी सामानों चीनी व्यवसाय का विरोध हो रहा था.

7.वैश्विक रियल्टी पारदर्शिता सूचकांक में भारत 34वें स्थान पर, जानें पाकिस्तान किस स्थान पर
रियल एस्टेट बाजार से जुड़े नियामकीय सुधार, बाजार से जुड़े बेहतर आंकड़े और हरित पहलों के चलते देश की रैंकिंग में एक अंक का सुधार हुआ है. वैश्विक संपत्ति सलाहकार कंपनी जेएलएल इस द्वि-वार्षिक सर्वेक्षण को करती है. देश के रियल एस्टेट बाजार को वैश्विक स्तर पर ‘आंशिक-पारदर्शी’ श्रेणी में रखा गया है.

सूचकांक में कुल 99 देशों की रैंकिंग की गयी है. इसमें शीर्ष स्थान पर ब्रिटेन है. इसके बाद क्रमश: अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, फ्रांस और कनाडा देश शीर्ष पांच में शामिल है. भारत के पड़ोसी देश चीन की इस सूचकांक में रैंकिंग 32, श्रीलंका की 65 और पाकिस्तान की 73वीं है.

8.WHO से आधिकारिक तौर पर हटा अमेरिका, UN महासचिव को दी जानकारी
अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप कोरोना वायरस महामारी से निपटने को लेकर संयुक्त राष्ट्र के स्वास्थ्य निकाय की लगातार आलोचना करते रहे हैं. ट्रंप प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने 07 जुलाई 2020 को इस बात की पुष्टि करते हुए कहा कि व्हाइट हाउस ने आधिकारिक तौर पर डब्ल्यूएचओ से अमेरिका को वापस ले लिया है.

अमेरिकी मीडिया के अनुसार ट्रंप सरकार ने डब्ल्यूएचओ से अपनी सदस्यता वापस लेने से संबंधित पत्र भेज दिया है. अमेरिका 06 जुलाई 2021 के बाद डब्ल्यूएचओ का सदस्य नहीं रह जाएगा. साल 1984 में तय नियमों के तहत किसी भी सदस्यता वापस लेने के साल भर बाद ही देश को डब्ल्यूएचओ से निकाला जाता है.

9.हिमाचल ने रचा इतिहास, सभी घरों को गैस कनेक्शन देने वाला देश का पहला राज्य बना
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने पिछले कार्यक्रम के दौरान उज्जवला योजना की परिकल्पना की थी, उन्होंने बताया कि इस योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं को निशुल्क गैस कनेक्शन उपलब्ध करवाए गए हैं. उन्होंने यह भी जानकारी दी कि इस योजना के तहत प्रदेश के 1.36 लाख परिवार लाभान्वित हुए हैं.

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने बताया कि एलपीजी कनेक्शन से महिलाओं को रसोई गैस के धुएं के दुष्प्रभाव से निजात मिला है. इसके साथ ही पर्यावरण संरक्षण में भी इससे मदद मिली. उन्होंने कहा कि पारंपरिक चूल्हे के लिए लकड़ियां इकट्ठा करना और खाना बनाना ना केवल कष्टदायक था बल्कि से महिलाओं के स्वास्थ्य पर भी बुरा असर पड़ रहा था.

10.चीन में अब ब्यूबोनिक प्लेग का खतरा, जानें यह कैसे फैलता है?
चीन के सरकारी पीपल्स डेली ऑनलाइन की एक रिपोर्ट के अनुसार आंतरिक मंगोलियाई स्वायत्त क्षेत्र, बयन्नुर शहर में ब्यूबोनिक प्लेग को लेकर 05 जुलाई को एक चेतावनी जारी की गई. बयन्नुर में ब्यूबोनिक प्लेग की रोकथाम और नियंत्रण के लिए लेवल थ्री की चेतावनी जारी की गई है. स्थानीय स्वास्थ्य प्राधिकार ने कहा कि इस समय इस शहर में मानव प्लेग महामारी फैलने का खतरा है.

मध्य युग में ब्यूबोनिक प्लेग महामारी, जिसे 'ब्लैक डेथ' भी कहा जाता है. इसने यूरोप की आधी से अधिक आबादी का सफाया कर दिया था. हालांकि, एंटीबायोटिक दवाओं की उपलब्धता के साथ बीमारी का अब काफी हद तक इलाज हो सकता है. इस बीमारी ने पहले भी पूरी दुनिया में लाखों लोगों को मारा है. इस जानलेवा बीमारी का दुनिया में तीन बार हमला हो चुका है.