Thursday, June 11, 2020

UPPSC ::: यूपीपीएससी के सामने समय पर परीक्षा की चुनौती , आयोग के समक्ष अभ्यर्थियों को संक्रमण से बचाकर समय पर परीक्षा कराने की चुनौती , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

UPPSC ::: यूपीपीएससी के सामने समय पर परीक्षा की चुनौती ,  आयोग के समक्ष अभ्यर्थियों को संक्रमण से बचाकर समय पर परीक्षा कराने की चुनौती , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 





 कोरोना संक्रमण का खतरा कायम है। संक्रमितों की संख्या निरंतर बढ़ रही है। मास्क लगाना, दो गज की शारीरिक दूरी और भीड़ एकत्र नहीं करने का निर्देश है। अभ्यर्थियों के भविष्य को देखते हुए उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने जुलाई से प्रतियोगी परीक्षाएं शुरू करने का अहम निर्णय लिया है। आयोग के समक्ष अभ्यर्थियों को संक्रमण से बचाकर समय पर परीक्षा कराने की चुनौती है।

यूपीपीएससी ने मंगलवार को संशोधित परीक्षा कैलेंडर जारी किया है। परीक्षाओं की शुरुआत 18 जुलाई को सहायक अभियोजन अधिकारी मुख्य परीक्षा 2018 से होगी। इसमें 207 अभ्यर्थी शामिल होंगे। जबकि 25 जुलाई को होने वाली सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा मुख्य परीक्षा 2019 में 6520 अभ्यर्थी शामिल होंगे। इसके बाद 16 अगस्त को खंड शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक परीक्षा 2019 की परीक्षा होगी। इस परीक्षा में पांच लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों को शामिल होना है। अभ्यर्थी ट्रेन और बस के माध्यम से परीक्षा केंद्रों तक पहुंचेंगे। सफर के दौरान उनमें कोरोना संक्रमण फैलने का खतरा होगा। परीक्षा केंद्रों में शारीरिक दूरी मानक का पालन कराना बड़ी चुनौती होगी। आयोग सचिव जगदीश का कहना है कि संघ लोकसेवा आयोग की परीक्षाएं जून से ही शुरू हो गई हैं।