Thursday, June 18, 2020

UPPSC BEO Prelims 2020: 16 अगस्त को होगी प्रारंभिक परीक्षा, 18 जनपदों में होगा परीक्षा का आयोजन , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

UPPSC BEO Prelims 2020: 16 अगस्त को होगी प्रारंभिक परीक्षा, 18 जनपदों में होगा परीक्षा का आयोजन , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 


उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यूपीपीएससी) ने खंड शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक परीक्षा के संबंध में सूचना जारी की है। प्रारंभिक परीक्षा का आयोजन 16 अगस्त 2020 को प्रदेश के कुल 18 जनपदों में निर्धारित परीक्षा केंद्रों पर किया जाएगा। पूर्व में यह परीक्षा 22 मार्च 2020 को होने वाली थी। लेकिन कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के कारण देशव्यापी लॉकडाउन लगा दिया गया, जिस कारण परीक्षा स्थगित करनी पड़ी थी। पुनः परीक्षा की तिथि के संबंध में आयोग की आधिकारिक वेबसाइट पर एक सूचना जारी की गई है। जिसमें बताया गया है कि 16 अगस्त 2020 को खंड शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक परीक्षा 2019 का आयोजन किया जाएगा। वहीं परीक्षा में शामिल होने के लिए उम्मीदवारों को प्रवेश पत्र फिर से डाउनलोड करना होगा। प्रवेश पत्र जुलाई माह में वेबसाइट पर अपलोड किए जाएंगे।

बता दें कि यूपीपीएससी खंड शिक्षा अधिकारी के 309 पदों पर भर्ती के लिए लगभग 5 लाख 28 हजार से अधिक उम्मीदवारों ने आवेदन किया है। यूपीपीएससी खंड शिक्षा अधिकारी भर्ती में एक पद के लिए सौ नहीं, बल्कि 1700 दावेदारों की लंबी फौज है। ऐसे में परीक्षा उत्तीर्ण करना उम्मीदवारों के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है।


खंड शिक्षा अधिकारी भर्ती में उम्मीदवारों का चयन मुख्य (लिखित) परीक्षा में प्राप्त कुल अंकों के आधार पर होगा। लेकिन, उस से पूर्व उम्मीदवारों को प्रारंभिक परीक्षा को क्लियर करना होगा। आवेदनों की भारी भरकम संख्या के मद्देनजर प्रारंभिक परीक्षा को क्लियर करना उम्मीदवारों के लिए आसान नहीं है। लेकिन, यदि किसी भी परीक्षा के पहले उसके सिलेबस का पूर्ण ज्ञान हो और उसके अनुसार ही तैयारी की जाए तो परीक्षा क्लियर करना आसान हो जाता है।


खंड शिक्षा अधिकारी प्रारंभिक परीक्षा में सामान्य अध्ययन का एक ऑब्जेक्टिव पेपर होगा। जिसमें 120 प्रश्नों के लिए 300 अंक निर्धारित होंगे। वहीं, परीक्षा की अवधि 2 घंटे होगी। यदि पिछले वर्षों के पेपर को देखा जाए तो प्रारंभिक परीक्षा में सामान्य विज्ञान, भारत का इतिहास, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन, भारतीय राज्य तंत्र, अर्थव्यवस्था व संस्कृति, भारतीय कृषि, वाणिज्य एवं व्यापार विषयों से अधिक प्रश्न पूछे जाते हैं। वहीं, जनसंख्या, पारिस्थितिकी एवं नगरीकरण, भारत और विश्व का भूगोल, प्राकृतिक संसाधन के अलावा सामान्य बौद्धिक और तार्किक क्षमता से भी प्रश्न पूछे जाते हैं। साथ ही इसमें हाईस्कूल स्तर के अंकगणित, बीजगणित और रेखागणित के कुछ प्रश्न शामिल होंगे। इसके अलावे, उम्मीदवारों को उत्तर प्रदेश की शिक्षा संस्कृति, कृषि, उद्योग, व्यापार, रहन-सहन व सामाजिक प्रथाओं की विशिष्ट जानकारी का अध्ययन कर लेना चाहिए।


पिछले वर्ष के प्रश्न-पत्र का अवलोकन कर लेना परीक्षा की तैयारी के लिए उत्तम स्रोत माना जाता है। उम्मीदवार पिछले वर्ष के प्रश्न पत्र की जांच करके अनुमान लगा सकते हैं कि अधिकारी प्रश्न पत्र कैसे तैयार करेंगे। यदि उम्मीदवार यूपीपीएससी खंड शिक्षा अधिकारी के पिछले वर्ष के प्रश्न-पत्र के अनुसार तैयारी करेंगे तो निश्चित ही लाभ होगा।