Saturday, June 6, 2020

UPPSC : पीसीएस के आवेदन में 18 हजार से अधिक अभ्यर्थियों ने की गलती , मिला सुधार करने का मौका , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

UPPSC : पीसीएस के आवेदन में 18 हजार से अधिक अभ्यर्थियों ने की गलती , मिला सुधार करने का मौका , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 






लोक सेवा आयोग की पीसीएस, एसीएफ एवं आरएफओ 2020 परीक्षा के लिए ऑनलाइन आवेदन करने वाले 18253 अभ्यर्थियों ने आवेदन करते समय गलती कर दी। किसी ने अपनी फोटो निर्धारित साइज से छोटी लगा दी तो किसी ने फोटो को उलटा लगा दिया तो कई आवेदक ऐसे भी हैं, जिनके आवेदन पत्र में फोटो ही नहीं है। यानी ऑनलाइन आवेदन करते वक्त उन्होंने फोटो डाउनलोड करने में चूक कर दी।


गलती सिर्फ फोटो को लेकर ही नहीं हैं। हजारों की संख्या में ऐसे आवेदक भी हैं, जिन्होंने अपना बगैर हस्ताक्षर किया हुआ फोटो आवेदन पत्र पर अपलोड कर दिया है। आयोग ने पीसीएस, एसीएफ एवं आरएफओ 2020 के लिए मिले 595696 आवेदन पत्रों की स्क्रूटनी करने के बाद गलती करने वाले 18253 आवेदकों की सूची वेबसाइट पर अपलोड की है। सूची में आवेदक का रजिस्ट्रेशन नंबर, नाम, पिता के नाम के साथ आवेदन पत्र में की गई गलती का भी उल्लेख किया गया है। आयोग ने आवेदकों को अपनी यह गलती सुधारने का मौका दिया है।


परीक्षा नियंत्रक अरविंद कुमार मिश्र की ओर से जारी सूचना में कहा गया है कि ऐसे अभ्यर्थी 12 जून तक गलती में सुधार कर सकते हैं। कुल 18253 अभ्यर्थियों में से 7504 ऐसे हैं, जिन्होंने हस्ताक्षर युक्त फोटो लगाने में गलती की है। वहीं 5867 अभ्यर्थी ऐसे हैं, जिनकी फोटो अलग-अलग कारणों से अयोग्य ठहराई गई है। शेष अभ्यर्थियों की फोटो निर्धारित साइज के अनुसार नहीं है। 

लॉकडाउन की वजह से हुई गलती
पीसीएस सहित अन्य भर्तियों के ज्यादातर आवेदक ऑनलाइन आवेदन साइबर कैफे से ही करवाते हैं। साइबर कैफे में इसके लिए बाकायदा शुल्क निर्धारित है। पीसीएस, एसीएफ एवं आरएफओ 2020 का ऑनलाइन आवेदन 21 अप्रैल से शुरू हुआ था। लॉकडाउन के कारण साइबर कैफे बंद थे इसलिए ज्यादातर अभ्यर्थियों ने खुद ही आवेदन किया। इतनी बड़ी संख्या में गलती सामने आने की एक वजह यह भी है। सचिव जगदीश ने बताया कि आवेदन पत्रों की स्क्रूटनी के दौरान यह गलतियां मिली हैं, आगे कोई परेशान न हो इसलिए अभ्यर्थियों को इसमें सुधार का एक मौका दिया गया है।