Thursday, June 18, 2020

RRB NTPC Recruitment : रेलवे ने एनटीपीसी भर्तियों को लेकर दिया ये बयान, दिए भर्ती प्रक्रिया जल्द शुरू होने के संकेत , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर



 आरआरबी एनटीपीसी भर्तियों को लेकर भारतीय रेलवे ने कहा है कि भर्ती परीक्षा के आयोजन की प्रक्रिया में अब तेजी लाई जाएगी। रेलवे ने कहा है कि वह कोरोना वायरस की स्थिति में सभी मानदंडों को ध्यान में रखते हुए एनटीपीसी भर्ती के सवा करोड़ आवेदकों की परीक्षा आयोजित करने के लिए एक कारगर रणनीति पर काम कर रहा है। रेलवे ने कहा कि पिछले साल निकाली गई एनटीपीसी (नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी) की 35,208 वैकेंसी के लिए कुल 1,26,30,885 (सवा करोड़ से भी ज्यादा) ऑनलाइन आवेदन आए थे। 

रेलवे ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण फैलने से पहले परीक्षा के आयोजन की तैयारी एडवांस स्टेज पर थी लेकिन महामारी फैलने के बाद यह बाधित हुई। लेकिन अब स्थिति में थोड़ी ढील होने के बाद रेलवे भर्ती प्रक्रिया में तेजी लाने जा रहा है। 

रेलवे ने कहा की कोविड-19 महामारी के चलते परीक्षा के आयोजन में नई तरह की चुनौतियां सामने आई हैं। जैसे अब परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र मास्क पहनकर पहुंचना होगा, जिससे चीटिंग का भी खतरा पैदा हुआ है। किसी असल उम्मीदवार की जगह किसी दूसरे उम्मीदवार के बैठने की आशंका भी है। परीक्षा केंद्रों पर भीड़ हो सकती है। हर शिफ्ट के एग्जाम के बाद परीक्षा केंद्र को सैनिटाइज करना होगा। सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन करने के लिए एक एग्जाम सेंटर पर परीक्षार्थियों को संख्या कम रखनी होगी। 

रेलवे ने कहा है कि परीक्षार्थियों को आरआरबी अपनी आधिकारिक वेबसाइट, ईमेल या SMS के जरिए ही सूचना देता है। उम्मीदवारों से अपील की जाती है कि वह सोशल मीडिया पर फैल रहीं अफवाहों से गुमराह न हों। 

फरवरी-मार्च माह में निकली थीं ये भर्तियां
पिछले साल 2019 में फरवरी-मार्च माह में रेलवे में छप्पर फाड़कर एनटीपीसी और ग्रुप डी की भर्तियां निकली थीं। इसमें एनटीपीसी की करीब 35000 और ग्रुप डी 1.03 लाख वैकेंसी थी। एनटीपीसी के लिए जहां करीब सवा करोड़ आवेदन आए हैं, वहीं ग्रुप डी भर्ती के लिए भी 1.15 करोड़ से ज्यादा आवेदन आए हैं। लेकिन अभी तक परीक्षा तिथियों का कोई अता पता नहीं है। लाखों उम्मीदवार रेलवे एनटीपीसी और रेलवे ग्रुप डी भर्ती परीक्षाओं के शेड्यूल का इंतजार कर रहा है।  RRB NTPC Notification के मुताबिक ये परीक्षा पिछले वर्ष यानी 2019 में जून और सितंबर के बीच आयोजित होनी थी। वहीं RRC Group D Notification के मुताबिक ये परीक्षा सितंबर और अक्टूबर 2019 में आयोजित होनी थी। 

रिपोर्ट्स के मुताबिक एग्जाम में देरी का कारण परीक्षा एजेंसी का न मिल पाना भी है। रेलवे एक ऐजेंसी की तलाश कर रहा था जो बिना किसी गड़बड़ी के पूरी पारदर्शिता के साथ इस व्यापक भर्ती परीक्षा का आयोजन कर सके।
 

RRB ALP और RRB Technician भर्ती का सफल आयोजन
रेलवे ने दुनिया की सबसे बड़ी असिस्टेंट लोको पायलट (एएलपी) और टेक्नीशियन भर्ती पूरी कर ली है। 2018 में निकाली गईं एएलपी और टेक्नीशियन की 64000 भर्तियों के लिए 47.45 लाख आवेदन आए थे। 64,371 वैकेंसी के लिए 56,378 उम्मीदवारों का पैनल मंजूर हो गया है। 40,420 उम्मीदवारों ( 22,223 एएलपी और 18,197 टेक्नीशियन ) को नियुक्ति पत्र भेजे जा चुके हैं। 

नवनियुक्त 19,120 उम्मीदवारों ( 10,123 एएलपी और 8,997 टेक्नीशियन ) की ट्रेनिंग हालात सामान्य होने पर फिर से बहाल होगी। ट्रेनिंग के ऑफर चरणों में भेजे जाएंगे। जैसे जैसे ट्रेनिंग के बैच पूरे होते जाएंगे, ट्रेनिंग के लिए बुलाया जाएगा। एएलपी की ट्रेनिंग में 17 सप्ताह और टेक्नीशियन की 6 माह का समय लगेगा। फिलहाल कोरोना संक्रमण के चलते सभी तरह की ट्रेनिंग रोक दी गई है। 
 
यह भर्ती प्रक्रिया तीन चरणों में थी- पहले कंप्यूटर स्टेज टेस्ट (सीबीटी) में 36 लाख परीक्षार्थी शामिल हुए। ये परीक्षा 9 अगस्त से 4 सितंबर 2018 के बीच आयोजित हुई। सेकेंड स्टेज सीबीटी में 13 लाख से ज्यादा उम्मीदवार बैठे जो 21 जनवरी से 23 जनवरी  2019 के बीच आयोजित हुआ। इसके बाद एएलपी के लिए 10 मई से 21 मई 2019 के बीच एप्टीट्यूड टेस्ट हुआ। इसमें 2,22,360 उम्मीदवारों ने हिस्सा लिया। विभिन्न जोनल रेलवे को सितंबर 2019 से फरवरी 2020 के बीच पैनल की आपूर्ति की गई। चूंकि एएलपी और तकनीशियन दोनों के लिए सीबीटी सामान्य था, इसलिए उन लोगों के लिए तकनीशियन परिणाम बाद में घोषित कर दिए गए, जो एएलपी के लिए कंप्यूटर आधारित एप्टीट्यूड टेस्ट (सीबीएटी) पास नहीं कर सके।