Sunday, June 21, 2020

DU एडमिशन 2020 :: दिल्ली विश्वविद्यालय में ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू , 4 जुलाई के बाद भी कटऑफ जारी होने तक दाखिले से जुड़े दस्तावेज को कर सकेंगे छात्र अपलोड , कॉलेज और पाठ्यक्रम को भरने की जरूरत नहीं, सिर्फ पंजीकरण करना होगा

DU एडमिशन 2020 :: दिल्ली विश्वविद्यालय में ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू , 4 जुलाई के बाद भी कटऑफ जारी होने तक दाखिले से जुड़े दस्तावेज को कर सकेंगे छात्र अपलोड , कॉलेज और पाठ्यक्रम को भरने की जरूरत नहीं, सिर्फ पंजीकरण करना होगा





दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) प्रशासन की तरफ से शनिवार को शाम 5 बजे स्नातक एवं पीजी पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया शुरू हो गई। डीयू की प्रवेश शाखा की डीन प्रो. शोभा बागई ने शाम को 5 बजे गूगल मीट के जरिये ऑनलाइन प्रेसवार्ता करते हुए दाखिला प्रक्रिया के सभी नियमों के बारे में जानकारी साझा की।

उन्होंने कहा कि डीयू का दाखिला पोर्टल 4 जुलाई तक खुला रहेगा। इस दिन तक छात्र स्नातक, पीजी, एमफिल एवं पीजी पाठ्यक्रमों में आवेदन करने के लिए पंजीकरण करा सकेंगे। 4 जुलाई के बाद दाखिला पोर्टल बंद कर दिया जाएगा। लेकिन आवेदन कर रहे छात्र अगस्त तक, पहली कटऑफ के जारी होने तक जरूरी दस्तावेजों को दाखिला पोर्टल पर अपलोड कर सकेंगे।

पीजी, एमफिल एवं पीएचडी पाठ्यक्रमों में दाखिला लेने के लिए इनके इंफोर्मेशन बुलेटिन भी डीयू की वेबसाइट पर अपलोड कर दिए गए हैं। साथ ही इस वर्ष दो नए पीजी पाठ्यक्रम एमएससी बायो फिजिक्स व एमए जर्नलिज्म भी शुरू किए जाएंगे। प्रो. शोभा बागई ने बताया कि डीयू की तरफ से अगस्त में कटऑफ जारी की जाएगी। हमें उम्मीद है कि केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की तरफ से अगस्त तक बोर्ड परीक्षा का मूल्यांकन करते हुए उसके नतीजे जारी कर दिए जाएं। तब कटऑफ जारी की जाएगी। उस समय दाखिला पोर्टल फिर से शुरू किया जाएगा। जिससे छात्र और कॉलेज प्रशासन कटऑफ के आधार पर तीन दिन में दाखिले प्रक्रिया को सुनिश्चित कर सकें। इसके ठीक अगले दिन, छात्रों को आधा दिन दाखिले के लिए अपनी फीस भरने के लिए दिया जाएगा।

उसी दौरान ही इस प्रक्रिया को भी निर्धारित किया जाएगा कि छात्र ऑनलाइन माध्यम से अपने बेस्ट फोर का मूल्यांकन सुनिश्चित कर सकें। पिछले वर्ष भी डीयू ने दाखिला पोर्टल पर इस तरह की व्यवस्था की थी। जिसमें छात्र अपने बेस्ट फोर को हर पाठ्यक्रम के लिए खुद मूल्यांकन कर सकता था। प्रो. शोभा ने बताया कि अगस्त में डीयू की 9 स्नातक पाठ्यक्रमों की और पीजी की प्रवेश परीक्षाओं का आयोजन किया जाएगा। इसकी तिथियों के बारे में भी छात्रों को जुलाई में बताया जाएगा। छात्र डीयू के दाखिला पोर्टल पर इसके लिए आवेदन कर सकते हैं। ईडब्ल्यूएस एवं ओबीसी श्रेणियों के सर्टिफिकेट को अगस्त तक करा सकेंगे जमा : प्रो. शोभा ने कहा कि डीयू में ईडब्ल्यूएस और ओबीसी श्रेणी से जुड़े छात्रों के पास अगर इन श्रेणियों के दस्तावेज नहीं हैं तो वह अगस्त तक जमा करा सकते हैं।

दस्तावेजों की जांच के लिए देशभर के बोर्डो से की बातचीत : प्रो. शोभा ने बताया कि छात्रों के 12वीं बोर्ड से जुड़े दस्तावेजों की जांच ऑनलाइन की जाएगी। इसके मद्देनजर मई महीने में विभिन्न पहलुओं पर सीबीएसई से भी बातचीत हुई थी। डीयू प्रशासन ने देशभर के सभी बोर्डो को पत्र लिखा है कि वह अपना-अपना लिंक साझा करें जिससे डीयू उनके बोर्डो के छात्रों के दस्तावेजों का ऑनलाइन सत्यापन कर सके। कोई भी छात्र जाली दस्तावेज के आधार पर दाखिला न ले इसलिए यह व्यवस्था की जाएगी। प्रो. शोभा ने कहा कि रक्षा बलों के बच्चों के दाखिले के मानदंडों को जुलाई तक जारी कर दिया जाएगा।

डीयू के ओपन डेज की जगह अगले हफ्ते से होंगे वेबिनार : डीयू में हर वर्ष दाखिला प्रक्रिया के शुरू होने के बाद कई दिनों तक डीयू के नॉर्थ कैंपस स्थित कन्वेंशन सेंटर में ओपन डेज का आयोजन किया जाता रहा है। इस बारे में प्रो. शोभा ने बताया कि कोविड-19 महामारी के इस दौर में डीयू में वेबिनार के जरिये ओपन डेज का आयोजन किया जाएगा। अगले सप्ताह से आवेदन करने वाले छात्रों के लिए इन वेबिनार की शुरुआत की जाएगी।

केंद्रीयकृत हेल्प डेस्क पर होंगे छह हेल्पलाइन नंबर : डीयू की तरफ से इस वर्ष के दाखिले के लिए केंद्रीयकृत हेल्प डेस्क को तैयार किया गया है। इसमें छह हेल्पलाइन नंबर डीयू की वेबसाइट में जारी किए जाएंगे। जिसमें छात्र स्नातक, पीजी पाठ्यक्रमों के दाखिले जुड़ी समस्याओं को लेकर प्रश्न कर सकते हैं।

ये हैं नए नियम

’ इस वर्ष बीए प्रोग्राम में दाखिला लेते समय 12वीं बोर्ड परीक्षा में जिन विषयों को पढ़ना जरूरी होता है उन विषयों की पढ़ाई नहीं करने पर बेस्ट फोर के कुल अंकों में से पांच फीसद अंक नहीं कटेंगे।

’ अगर किसी साइंस के छात्र को बीए प्रोग्राम में दाखिला लेना है तो उसके बेस्ट फोर के पांच फीसद अंक नहीं कटेंगे। पिछले वर्ष तक पांच फीसद अंक कटा करते थे।

’ खेल कोटे में सर्टिफिकेट के आधार पर दाखिला होगा। वहीं ईसीए कोटे में एनसीसी और एनएसएस के सर्टिफिकेट को जमा करा सकेंगे।

’ बीए ऑनर्स म्यूजिक और एमए म्यूजिक के पाठ्यक्रमों में आवेदन के लिए छात्रों को सात मिनट का वीडियो दाखिला पोर्टल पर पंजीकरण के समय अपलोड करना होगा।

’ जनरल एवं ओबीसी के लिए : 250 रुपये

’ एससी, एसटी, दिव्यांग एवं ईडब्ल्यूएस श्रेणियों के लिए : 100 रुपये

’ ईसीए एवं खेल कोटे के लिए अतिरिक्त पंजीकरण शुल्क : 100 रुपये

’ प्रवेश परीक्षा के लिए जनरल एवं ओबीसी के लिए अतिरिक्त शुल्क : 750 रुपये

’ प्रवेश परीक्षा के लिए एससी, एसटी, दिव्यांग एवं ईडब्ल्यूएस श्रेणी के लिए अतिरिक्त शुल्क : 300 रुपये

’ दाखिला रद कराने का शुल्क : 1,000 रुपये