Friday, June 26, 2020

कोरोना वायरस संक्रमण प्रभाव ::: अक्टूबर से पहले स्कूलों का खुलना मुश्किल , मंत्रलय ने दिए संकेत, ऑनलाइन पढ़ाई के लिए तेज की मुहिम , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

कोरोना वायरस संक्रमण प्रभाव ::: अक्टूबर से पहले स्कूलों का खुलना मुश्किल , मंत्रलय ने दिए संकेत, ऑनलाइन पढ़ाई के लिए तेज की मुहिम , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 






आने-वाले महीनों में भी कोरोना वायरस महामारी के संक्रमण की रफ्तार बढ़ने की आशंकाओं के बीच स्कूलों का हाल-फिलहाल अक्टूबर से पहले खुलना मुश्किल नजर आ रहा है। मानव संसाधन विकास मंत्रलय ने स्वास्थ्य विशेषज्ञों के साथ चर्चा करने के बाद इस बात के संकेत दिए हैं। ऐसे में मंत्रलय ने ऑनलाइन पढ़ाई की भी मुहिम को और तेज कर दिया है। स्कूलों से ऑनलाइन क्लास लगाने और छात्रों को उससे जोड़ने के निर्देश दिए गए हैं। इसके साथ ही स्कूलों के लिए प्रस्तावित 12 नए टीवी चैनलों को लांच करने की योजना पर भी काम तेज किया गया है। मंत्रलय ने इससे पहले स्कूलों के अगस्त तक खुलने की उम्मीद जताई थी। लेकिन हाल ही में दिल्ली सहित देश के अलग-अलग हिस्सों में कोरोना संक्रमण की रफ्तार बहुत तेज हो गई है। मंत्रलय ने हाल ही में यूजीसी को भी परीक्षाओं और नए शैक्षणिक सत्र को लेकर जारी गाइड लाइन की नए सिरे से समीक्षा करने को कहा है। इस बीच, मंत्रलय के निर्देश पर केंद्रीय विद्यालयों में ऑनलाइन पढ़ाई शुरू हो गई है। छात्रों को हर दिन दो से तीन घंटे ऑनलाइन पढ़ाया जा रहा है। इस दौरान नोट्स आदि भी तैयार कराने का काम शुरू कर दिया गया है। हालांकि अभी हर दिन सभी विषय नहीं पढ़ाए जा रहे हैं। बल्कि इन्हें तीन से चार दिन ही पढ़ाया जा रहा है। छात्रों की उपस्थिति भी जरूरी की गई है। हाल में शुरु हुई ऑनलाइन क्लास में जो बच्चे नहीं शामिल हो रहे हैं, उन्हें लेकर स्कूलों ने अभिभावकों को मैसेज किए हैं। साथ ही कहा है कि वह बच्चे को ऑनलाइन क्लास से अनिवार्य रूप से जोड़ें। संगठन से जुड़े अधिकारियों की मानें तो कोरोना वायरस महामारी के कारण मौजूदा समय में जो परिस्थितियां बनी हुई हैं, उनमें फिलहाल ऑनलाइन ही पढ़ना होगा। इसके जरिए कब तक पढ़ना होगा, यह कहना मुश्किल है।