Tuesday, June 9, 2020

धोखाधड़ी ::: शिक्षिका अनामिका, प्रमाणपत्र में रीना, पता सुप्रिया का , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

धोखाधड़ी ::: शिक्षिका अनामिका, प्रमाणपत्र में रीना, पता सुप्रिया का , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 





 सोरांव के गोहरी स्थित कस्तूरबा गांधी आवासीय बालिका विद्यालय में फर्जी दस्तावेज के जरिए नौकरी पाने की आरोपित अनामिका शुक्ला को लेकर गुत्थी सुलझने का नाम नहीं ले रही। जिस पते का निवास प्रमाणपत्र कथित शिक्षिका अनामिका ने लगाया है, वह क्रमांक संख्या के आधार पर रीना का है और उस पर पता रजपालपुर, लखनपुर, कायमगंज जिला फरुखाबाद दर्ज है। इसी पते से सुप्रिया को पुलिस अनामिका के नाम पर नौकरी करने के आरोप में गिरफ्तार कर चुकी है। अब पुलिस सच्चाई का पता लगा रही है।

अनामिका शुक्ला के खिलाफ रविवार को जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी बीएसए संजय कुमार कुशवाहा ने कर्नलगंज थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। आरोप है कि उसने फर्जी दस्तावेज के जरिए वार्डन व कार्यालय को गुमराह करते हुए कार्यभार ग्रहण किया। पुलिस, शिक्षा विभाग में मौजूद उन दस्तावेज की जांच में जुटी है, जिसके आधार पर बीएसए ने कहा है कि अनामिका ने जो निवास प्रमाणपत्र लगाया है, वह ऑनलाइन जांच में रीना के नाम से निर्गत हुआ है। पुलिस विद्यालय के वार्डन और कर्मचारियों से यह भी जानना चाहती है कि चार्ज लेते समय कथित अनामिका ने किस तरह गुमराह किया था? सर्व शिक्षा अभियान के समन्वयक से भी पूछताछ संभव है। इंस्पेक्टर कर्नलगंज अरुण त्यागी का कहना है कि दस्तावेज की जांच की जा रही है। सोमवार को कर्नलगंज पुलिस ने मम्फोर्डगंज स्थित सर्व शिक्षा अभियान के दफ्तर और कटरा स्थित बीएसए कार्यालय पहुंचकर संबंधित दस्तावेज अपने कब्जे में लिया। मंगलवार को विद्यालय में पूछताछ के आसार हैं। एफआइआर के मुताबिक, अनामिका ने आवेदन पत्र के साथ जो निवास प्रमाणपत्र लगाया था, उसकी ऑनलाइन जांच दो जून को की गई। इसमें पाया गया कि इसे (निवास प्रमाणपत्र को) उसी क्रमांक पर रीना पिता/पति चंद्रभान सिंह के नाम से 19 नवंबर 2014 को निर्गत किया गया है।

शिक्षिका की सेवा समाप्ति की कार्रवाई शुरू

जागरण संवाददाता, प्रयागराज : जिस कथित शिक्षिका अनामिका शुक्ला ने फर्जी दस्तावेजों के आधार पर कस्तूरबा विद्यालय में चार महीने नौकरी की थी, अब उसकी सेवा समाप्त की जाएगी। फर्जी दस्तावेज लगाकर नौकरी हथियाने के मामले में रविवार को मुकदमा दर्ज कराने के बाद सोमवार को मम्फोर्डगंज स्थित सर्वशिक्षा अभियान कार्यालय में शिक्षिका की सेवा से संबंधित फाइलों की छानबीन होती रही। उसकी सेवा समाप्ति के लिए कार्रवाई शुरू कर दी गई है। एक अधिकारी का कहना है कि इस कार्रवाई में दो-तीन दिन लगेंगे।