Saturday, June 6, 2020

अनलॉक का मतलब स्वतंत्रता नहीं, एक साथ इकट्ठे नहीं हो सकते पांच लोग: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर

अनलॉक का मतलब स्वतंत्रता नहीं, एक साथ इकट्ठे नहीं हो सकते पांच लोग: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ , क्लिक करे और पढ़े पूरी खबर 




अनलॉक-1 के दौरान उत्तर प्रदेश सरकार सूबे के धार्मिक स्थल, कार्यालयों, मॉल, होटल और रेस्त्रां को लेकर नए दिशा-निर्देश जारी करेगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी से सावधानी बरतने की अपील करते हुए स्पष्ट कहा कि अनलॉक का मतलब स्वतंत्रता नहीं है।
इसके साथ ही उन्होंने कड़ाई से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि सार्वजनिक स्थानों पर पांच से अधिक लोग एकत्र न हों। पुलिस द्वारा लगातार पेट्रोलिंग करते हुए भीड़ को एकत्र होने से रोका जाए।
लखनऊ स्थित आवास में मुख्यमंत्री योगी ने उच्च स्तरीय बैठक में अनलॉक की समीक्षा करते हुए कहा कि कंटेनमेंट जोन के बाहर के इलाकों को चरणबद्ध तरीके से छूट प्रदान करने की व्यवस्था की गई है। इसके तहत आठ जून से कई गतिविधियों में छूट दी जाएगी। उन्होंने कहा कि अपर मुख्य सचिव गृह को इन गतिविधियों के प्रोटोकॉल के संबंध में दिशा-निर्देश जारी करने को कहा गया है। उन्होंने 15-30 जून के बीच एक करोड़ मानव दिवस प्रतिदिन सृजित करने के लिए एक कार्य योजना बनाने के निर्देश दिए हैं। इस दौरान कृषि, उद्यान, वन विभाग द्वारा पौधारोपण के लिए गड्ढा खोदने, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क निर्माण की योजना, चेक डैम निर्माण सहित अन्य कार्य करते हुए रोजगार उपलब्ध कराए जाएंगे।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का संकल्प है कि कोई सड़क पर न सोए। इसके लिए प्रधानमंत्री के पैकेज में श्रमिकों व कामगारों के लिए किराए पर माकान उपलब्ध कराने के लिए भवन निर्माण की व्यवस्था की जा रही है। वहीं मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिए कि यूपी में कार्यरत अन्य राज्यों के श्रमिक अगर अपने गृह प्रदेश जाना चाहते हैं को उनकी सकुशल वापसी की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाए।